Connect with us

हरियाणा

गांव खेड़ी हुआ सीसीटीवी कैमरों से लैस

Published

on

नारनौल, 24 अप्रैल
गांव खेड़ी में पंचायत की ओर से सभी प्रमुख रास्तों पर 52 सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए हैं। कैमरों के जरिए गांव के हर रास्ते पर नजर रहेगी।
मंगलवार को सरपंच नरेंद्र सिंह ने बताया कि गांव खेड़ी अटेली खंड का पहला और जिले का दूसरा ऐसा गांव है जहां अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए कैमरे लगाए गए हैं।
उन्होंने कहा कि सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद गांव में होने वाली चोरियों व अन्य अपराधिक वारदातों पर प्रभावी अंकुश लग सकेगा।
दरअसल, गांव में पिछले दिनों एक के बाद एक चोरी की वारदातें हुई। हर वारदात की पुलिस में शिकायत की गई, लेकिन पुलिस मामलों का खुलासा करने में नाकाम साबित हुई। हालात यह थे कि गांव में दो महीने के अंदर दो ट्रैक्टर ट्राली भी चोर पार कर ले गए थे। इसके अलावा भैंस चोरी की भी वारदात हुई। कुछ दिन पहले गांव के राजाराम के घर से लाखों रुपये की चोरी हो चुकी है। इसके बाद ग्रामीणों ने गांव में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने की मांग उठाई थी। ग्राम पंचायत ने इस दिशा में पहल की और करीब छह लाख रुपये की लागत से गांव के सभी रास्तों पर सीसीटीवी कैमरे लगा दिए। इन कैमरों को फिलहाल गांव के सरपंच के मोबाइल से कनेक्ट किया गया है ताकि गांव का मुखिया हर गतिविधि पर नजर रख सके। बालिकाओं से छेड़छाड़ की घटनाएं नहीं हो इसके लिए गांव की कन्या पाठशाला में भी कैमरे लगाए गए हैं। इससे स्कूल के आसपास मंडराने वाले असामाजिक तत्वों पर भी नजर रखी जा रही है।
ज्ञात हो कि करीब छह महीने पहले जिला के गोमला गांव में भी सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं।
जिले में गोमला के बाद दूसरा गांव :
खेड़ी जिले का अब ऐसा गांव हो गया है जो पूरी तरह सीसीटीवी कैमरों की नजर में रहेगा। यह जिले का दूसरा गांव है जिसके हर रास्ते पर कैमरों की नजर होगी। इससे पहले गोमला गांव में पंचायत की पहल पर ही सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। ग्रामीणों का मानना है कि इससे गांव में चोरी व अन्य वारदातों पर रोक लगेगी।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

विज्ञान प्रदर्शनी में बच्चो ने मॉडल में दिखाये भविष्य के सपने

—इस प्रदर्शनी में ब्लॉक सीवन के 12 स्कूलों के बच्चो ने 41 माडल को प्रदर्षित किया

Published

कैथल,(नसीब सैनी)

सीवन के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में खंड स्तरीय जवाहरलाल नेहरू विज्ञान गणित,पर्यावरण,प्रदर्शनी का आयोजन किया गया जिसमे प्रदर्शनी का शुभारंभ खंड शिक्षा अधिकारी व स्टेट अवार्डी सुदर्शन शर्मा ने किया।

इस प्रदर्शनी में ब्लॉक सीवन के 12 स्कूलों के बच्चो ने 41 माडल को प्रदर्षित किया ,साइंस प्रदर्शनी अवलोकन करने आए डीईईओ श्री शमशेर सिंह सिरोही ने सभी प्रतिभागी बच्चों की बनाए मॉडलों का निरीक्षण के दौरान मॉडल से सम्बंधित मॉडल कर्ता बच्चो से प्रश्न पूछ कर बच्चो की आहर्ता को जांचा। सभी मॉडल कर्ता बच्चो ने डीईईओ द्वारा पूछे गए प्रश्नों का सटीक उत्तर देकर वाह वाही लूटी।

निर्णायक मंडल में प्राध्यापक राकेश नारंग,महेश शर्मा व श्रीमती सोनिया ने प्रत्येक मॉडल के उपविषय के प्रथम,द्वित्य व तृतीय स्थानों की टीमो का परिणाम घोषित किया। उपविषयों में सफाई स्वास्थ्य विषय मे अंकुश खेड़ी गुलाम अली स्कूल,द्वित्य युवराज रावमावि सीवन, परिवहन व संचार विषय मे प्रथम अमन रावमावि कांग्थली,द्वित्य विजय औद्योगिक विषय पर रंजीत शिवम स्कूल से द्वितीय हनी संसाधन प्रबंधन विषय पर मनप्रीत लैंडर कीमा, द्वित्य कविता क्वारतन ,कृषि विषय पर पंकज पाबसर, रमन सैर शैक्षिक खेल वह गणित विषय में प्रदीप प्रथम व राहुल द्वित्य सीवन स्कूल से रहे।

वरिष्ठ प्राध्यापक हरपाल सिंह सभी विजेताओं मॉडल कर्ता बच्चो को पुरस्कार देकर सम्मानित करते हुए उन्हें भविष्य में मॉडलों को हकीकत में बनाकर उनको समाज की भलाई ओर उन्नति के लिये आगे बढ़ाने का आशिर्वाद दिया। कार्यक्रम में प्राध्यापक रफ़ीक़ अंसारी,मोनिका मिगलानी,कपिल,अतुल शर्मा,जज सिंह,हेडमास्टर सुरेश शर्मा मौजूद रहे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

कैथल राजकीय कॉलेज में पराली जलाने से होने वाले नुकसान के प्रति निकाली जागरूक रैली

—बेदी ने कहा कि मैं कॉलेज प्रशासन की तरफ से किसानों से अनुरोध करता हूं कि वे पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पराली ना जलाएं

Published

कैथल,(नसीब सैनी)

कैथल के डॉ भीमराव अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय जगदीशपुरा में पराली को जलाने से होने वाले नुकसान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए एक रैली का आयोजन किया गया।

यह रैली कॉलेज की एनएसएस इकाई  की तरफ से से निकाली गई, रैली को कॉलेज के प्राचार्य डॉ ऋषि पाल बेदी  ने संबोधित कर जगदीशपुरा गांव के लिए रवाना किया साथ ही अपने संबोधन में कहा कि हमें पर्यावरण को ध्यान में रखते पराली नहीं जलानी चाहिए। बेदी ने कहा कि मैं कॉलेज प्रशासन की तरफ से किसानों से अनुरोध करता हूं कि वे पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पराली ना जलाएं।

इस अवसर पर एन एस एस कार्यक्रम अधिकारी डॉ अभिषेक गोयल, प्रो. दिनेश कुमार, डॉ. मुकेश रानी , डॉ. मीना कुमारी, सतीश कुमार,  प्रो. जसपाल मलिक आदि प्रोफेसर व महाविद्यालय के एनएसएस कैडेट और विद्यार्थी मौजूद रहे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

एनडीआरएफ की टीम ने बोरवेल में गिरी बच्ची शिवानी को बाहर निकाला, नहीं बच सकी जान

—पांच वर्षीय शिवानी अपने परिवार के साथ खेत में रहती थी। उनके घर के पास ही बोरवेल बना हुआ था

Published

करनाल,(नसीब सैनी)।

करनाल के घरौंडा कस्बे के गांव हरसिंह पूरा में पांच वर्षीय बच्ची शिवानी घर के पास बने 50 फुट गहरे बोरवेल में गिर गई थी। पुलिस प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम ने सयुंक्त ऑपेरशन में शिवानी को सोमवार को सुबह बोरवेल से बाहर ताे निकाल लिया, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। करनाल के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र भौरिया, घरौंडा विधायक हरविंद्र कल्याण मौके पर मौजूद रहे।

पांच वर्षीय शिवानी अपने परिवार के साथ खेत में रहती थी। उनके घर के पास ही बोरवेल बना हुआ था। वह रविवार की रात अचानक वह उसमें जा गिरी। परिजनों के ढूंढ़ने पर जब उसका कोई पता नहीं चला तो गांव के लोग उनके घर इक्कट्ठा होने लगे तभी उनके पड़ोसी ने उसके पिता रवि के साथ बोरवेल में बैटरी से देखने का प्रयास किया। उससे भी न दिखने पर मोबाइल को कपड़े में बांधकर कैमरा ऑन कर बोरवेल में रस्सी के माध्यम से भेजा तो उसमें शिवानी की फोटो आ गई। शिवानी इसमें उल्टी फंसी हुई थी। तभी प्रशासन को इसके बारे में सूचना दी गई प्रशासन ने एनडीआरएफ की टीम को बुलाकर ऑपरेशन शुरू किया। सारी रात यह ऑपरेशन चलता रहा।
 एनडीआरएफ की टीम ने नई तकनीक पाइप के माध्यम से बच्ची का पैर या कपड़ा फंसाकर बच्ची को निकालने की कोशिश की गई। बच्ची को सांस लेने में दिक्कत न हो इसके लिए सिलेंडर से बोरवेल में आक्सीजन दी गई। पुलिस प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम ने बड़ी मशक्कत के बाद सोमवार सुबह बोरवेल से बच्ची को निकाल लिया गया है और बच्ची को एम्बुलेंस में अस्पताल में ले जाया गया । जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित किया।

घरौंडा के विधायक ने परिवार वालों को सांत्वना देते हुए कहा कि प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम उसको निकालने में कामयाब तो रहीं लेकिन उसकी जान नहीं बचा पाई इसका सभी को बहुत दुःख है। उन्होंने कहा कि इसमें लगे सभी कर्मचारी अधिकारियों ने अपनी जिम्मेदारी बहुत अच्छे से निभाते हुए कार्य किया। पुलिस प्रशासन ने बड़ी मुस्तैदी से कम किया। एनडीआरएफ की टीम बच्ची शिवानी काे निकालने में कामयाब रहे। लोगों ने परिवार के सभी सदस्यों को दुःख की इस घड़ी में सात्वना दी।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News2 दिन पूर्व

अंग्रेजी मीडियम कल्चर में फिट नहीं हो पा रही थी छात्रा, की खुदकुशी

---पुलिस ने बताया कि रात को उसने दोस्तों के साथ पिकनिक किया था जिसके बाद ही फांसी लगाई है

Top News2 दिन पूर्व

लॉस एंजेल्स में गोलीबारी करने वाला छात्र एशियाई

---पुलिस रिकार्ड के अनुसार उसके पिता और उसकी मां के बी 2015 में झगड़ा हुआ था। इसके बाद उसके पिता...

Top News3 दिन पूर्व

दिल्ली : तीस हजारी कोर्ट में गोली चलाने वाले पुलिस जवानों की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक

---तीस हजारी कोर्ट में वकील पर गोली चलाने के आरोपित एएसआई पवन कुमार और एक अन्य पुलिसकर्मी ने दिल्ली हाई...

Top News3 दिन पूर्व

लॉस एंजेलिस के स्कूल में गोलीबारी, बच्ची की मौत

---हमलावर बच्चे को हेलीकॉप्टर की मदद से पकड़ा गया

Top News6 दिन पूर्व

पंजाब: लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

---साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर ---जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market