Connect with us

हरियाणा

डपिंग यार्ड में जलते हुए कूड़े से निकली चिंगारी से फसल जल जाने के बाद डपिंग यार्ड को हटाने की मांग

Published

on

कैथल।

कैथल के खुराना रोड पर शुक्रवार को डपिंग यार्ड में जलते हुए कूड़े से निकली चिंगारी से फसल जल जाने के बाद डपिंग यार्ड को हटाने की मांग पर सोमवार को किसान अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। धरने पर हर रोज तीन गांवो के किसान बैठेगें। इस धरने की अध्यक्षता भारतीय किसान यूनियन रत्तन मान गुट के प्रदेशाध्यक्ष सुखपाल ने की। प्रदेशाध्यक्ष ने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे परिषद को कई बार इसे हटाने की शिकायत कर चुके है। लेकिन इसके बावजूद इसे नहीं हटाया गया। जिसका नतीजा यह रहा कि तीन गांवो के किसानों की 100से अधिक एकड़ गेंहू की फसल फानों सहित जलकर राख हो गई। किसानों द्वारा विरोध करने के बाद भी प्रशासन ने इस समस्या का कोई समाधान नहीं किया। इस मौके पर जय भगवान, मुख्तयार सिह, मान सिह जगदीश पुरा, रामफल, राममेहर सहित अन्य किसान मौजूद रहे।

बता दें कि किसानों की 100 से अधिक एकड़ फसल जलने के बाद इन गांवो के 200 से अधिक किसानों ने प्रशासन का विरोध करत हुए अंबाला चंड़ीगढ़ नेशनल हाइवे 65 को जाम कर दिया था। इस दौरान किसान चार घंटो से अधिक यहां पर डटे रहे थे। जिस पर पुलिस ने अगले ही दिन इन पर 100 से अधिक केस दर्ज कर लिए थे। जिसके बाद से ही किसानों का गुस्सा प्रशासन के खिलाफ और अधिक
किसान बलवंत, जियालाल, मान सिह, जगदीश ने नगर परिषद पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने कमेटी को जमीन शहर में पानी की आपूर्ति पूरी करने के लिए बूस्ंिटग स्टेशन को लेकर दी थी। लेकिन यहां पर डपिंग यार्ड बना दिया। जिसे बनाने के लिए यहां पर उचित जगह ही नहीं थी। यदि यहां पर डपिंग यार्ड न बना होता तो किसानों को इतना बड़ा खामियाजा न भुगतना पड़ता।

डपिंग यार्ड के समीप धरना दे रहे किसान पुलिस द्वारा दर्ज किए गए केसों को वपिस लेने, मुआवजे की राशि 12 हजार रुपये से अधिक देने, फाने की मुआवजा राशि देने व डपिंग यार्ड को हटाने की मांग कर रहे है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

विज्ञान प्रदर्शनी में बच्चो ने मॉडल में दिखाये भविष्य के सपने

—इस प्रदर्शनी में ब्लॉक सीवन के 12 स्कूलों के बच्चो ने 41 माडल को प्रदर्षित किया

Published

कैथल,(नसीब सैनी)

सीवन के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में खंड स्तरीय जवाहरलाल नेहरू विज्ञान गणित,पर्यावरण,प्रदर्शनी का आयोजन किया गया जिसमे प्रदर्शनी का शुभारंभ खंड शिक्षा अधिकारी व स्टेट अवार्डी सुदर्शन शर्मा ने किया।

इस प्रदर्शनी में ब्लॉक सीवन के 12 स्कूलों के बच्चो ने 41 माडल को प्रदर्षित किया ,साइंस प्रदर्शनी अवलोकन करने आए डीईईओ श्री शमशेर सिंह सिरोही ने सभी प्रतिभागी बच्चों की बनाए मॉडलों का निरीक्षण के दौरान मॉडल से सम्बंधित मॉडल कर्ता बच्चो से प्रश्न पूछ कर बच्चो की आहर्ता को जांचा। सभी मॉडल कर्ता बच्चो ने डीईईओ द्वारा पूछे गए प्रश्नों का सटीक उत्तर देकर वाह वाही लूटी।

निर्णायक मंडल में प्राध्यापक राकेश नारंग,महेश शर्मा व श्रीमती सोनिया ने प्रत्येक मॉडल के उपविषय के प्रथम,द्वित्य व तृतीय स्थानों की टीमो का परिणाम घोषित किया। उपविषयों में सफाई स्वास्थ्य विषय मे अंकुश खेड़ी गुलाम अली स्कूल,द्वित्य युवराज रावमावि सीवन, परिवहन व संचार विषय मे प्रथम अमन रावमावि कांग्थली,द्वित्य विजय औद्योगिक विषय पर रंजीत शिवम स्कूल से द्वितीय हनी संसाधन प्रबंधन विषय पर मनप्रीत लैंडर कीमा, द्वित्य कविता क्वारतन ,कृषि विषय पर पंकज पाबसर, रमन सैर शैक्षिक खेल वह गणित विषय में प्रदीप प्रथम व राहुल द्वित्य सीवन स्कूल से रहे।

वरिष्ठ प्राध्यापक हरपाल सिंह सभी विजेताओं मॉडल कर्ता बच्चो को पुरस्कार देकर सम्मानित करते हुए उन्हें भविष्य में मॉडलों को हकीकत में बनाकर उनको समाज की भलाई ओर उन्नति के लिये आगे बढ़ाने का आशिर्वाद दिया। कार्यक्रम में प्राध्यापक रफ़ीक़ अंसारी,मोनिका मिगलानी,कपिल,अतुल शर्मा,जज सिंह,हेडमास्टर सुरेश शर्मा मौजूद रहे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

कैथल राजकीय कॉलेज में पराली जलाने से होने वाले नुकसान के प्रति निकाली जागरूक रैली

—बेदी ने कहा कि मैं कॉलेज प्रशासन की तरफ से किसानों से अनुरोध करता हूं कि वे पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पराली ना जलाएं

Published

कैथल,(नसीब सैनी)

कैथल के डॉ भीमराव अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय जगदीशपुरा में पराली को जलाने से होने वाले नुकसान के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए एक रैली का आयोजन किया गया।

यह रैली कॉलेज की एनएसएस इकाई  की तरफ से से निकाली गई, रैली को कॉलेज के प्राचार्य डॉ ऋषि पाल बेदी  ने संबोधित कर जगदीशपुरा गांव के लिए रवाना किया साथ ही अपने संबोधन में कहा कि हमें पर्यावरण को ध्यान में रखते पराली नहीं जलानी चाहिए। बेदी ने कहा कि मैं कॉलेज प्रशासन की तरफ से किसानों से अनुरोध करता हूं कि वे पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पराली ना जलाएं।

इस अवसर पर एन एस एस कार्यक्रम अधिकारी डॉ अभिषेक गोयल, प्रो. दिनेश कुमार, डॉ. मुकेश रानी , डॉ. मीना कुमारी, सतीश कुमार,  प्रो. जसपाल मलिक आदि प्रोफेसर व महाविद्यालय के एनएसएस कैडेट और विद्यार्थी मौजूद रहे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

एनडीआरएफ की टीम ने बोरवेल में गिरी बच्ची शिवानी को बाहर निकाला, नहीं बच सकी जान

—पांच वर्षीय शिवानी अपने परिवार के साथ खेत में रहती थी। उनके घर के पास ही बोरवेल बना हुआ था

Published

करनाल,(नसीब सैनी)।

करनाल के घरौंडा कस्बे के गांव हरसिंह पूरा में पांच वर्षीय बच्ची शिवानी घर के पास बने 50 फुट गहरे बोरवेल में गिर गई थी। पुलिस प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम ने सयुंक्त ऑपेरशन में शिवानी को सोमवार को सुबह बोरवेल से बाहर ताे निकाल लिया, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी। करनाल के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र भौरिया, घरौंडा विधायक हरविंद्र कल्याण मौके पर मौजूद रहे।

पांच वर्षीय शिवानी अपने परिवार के साथ खेत में रहती थी। उनके घर के पास ही बोरवेल बना हुआ था। वह रविवार की रात अचानक वह उसमें जा गिरी। परिजनों के ढूंढ़ने पर जब उसका कोई पता नहीं चला तो गांव के लोग उनके घर इक्कट्ठा होने लगे तभी उनके पड़ोसी ने उसके पिता रवि के साथ बोरवेल में बैटरी से देखने का प्रयास किया। उससे भी न दिखने पर मोबाइल को कपड़े में बांधकर कैमरा ऑन कर बोरवेल में रस्सी के माध्यम से भेजा तो उसमें शिवानी की फोटो आ गई। शिवानी इसमें उल्टी फंसी हुई थी। तभी प्रशासन को इसके बारे में सूचना दी गई प्रशासन ने एनडीआरएफ की टीम को बुलाकर ऑपरेशन शुरू किया। सारी रात यह ऑपरेशन चलता रहा।
 एनडीआरएफ की टीम ने नई तकनीक पाइप के माध्यम से बच्ची का पैर या कपड़ा फंसाकर बच्ची को निकालने की कोशिश की गई। बच्ची को सांस लेने में दिक्कत न हो इसके लिए सिलेंडर से बोरवेल में आक्सीजन दी गई। पुलिस प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम ने बड़ी मशक्कत के बाद सोमवार सुबह बोरवेल से बच्ची को निकाल लिया गया है और बच्ची को एम्बुलेंस में अस्पताल में ले जाया गया । जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित किया।

घरौंडा के विधायक ने परिवार वालों को सांत्वना देते हुए कहा कि प्रशासन व एनडीआरएफ की टीम उसको निकालने में कामयाब तो रहीं लेकिन उसकी जान नहीं बचा पाई इसका सभी को बहुत दुःख है। उन्होंने कहा कि इसमें लगे सभी कर्मचारी अधिकारियों ने अपनी जिम्मेदारी बहुत अच्छे से निभाते हुए कार्य किया। पुलिस प्रशासन ने बड़ी मुस्तैदी से कम किया। एनडीआरएफ की टीम बच्ची शिवानी काे निकालने में कामयाब रहे। लोगों ने परिवार के सभी सदस्यों को दुःख की इस घड़ी में सात्वना दी।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News2 दिन पूर्व

पंजाब: लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

---साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर ---जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है...

Top News3 दिन पूर्व

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक फोटो डालने वाले आरोपी को जेल

---पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार मिश्र के निर्देश पर सोशल मीडिया सेल ने आरोपी की पहचान कर दबोच लिया

Top News3 दिन पूर्व

पुलिस विवादित और भड़काऊ पोस्ट पर कर रही है गिरफ्तार

---सबसे अधिक ट्विटर पर 5294, फेसबुक 2220 और यू-ट्यूब के 167 वीडियो व प्रोफाइल के खिलाफ रिपोर्ट की गई

Top News5 दिन पूर्व

कर्ज नहीं चुकाने की वजह से अनिल अंबानी के खिलाफ मामला दर्ज

---इससे पहले भी एरिक्शन में इसी तरह का विवाद सामने आया था। रिलायंस कम्युनिकेशन्स को एरिक्शन को 550 करोड़ रुपये...

Top News6 दिन पूर्व

पत्रकार के साथ बदसलूकी करने के मामले में बीजद सांसद के खिलाफ मामला दर्ज

---इस मामले में अभी तक सांसद ने क्षमायाचना नहीं की है और न ही बीजद की ओर से कोई आधिकारिक...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market