Connect with us

राजस्थान

दबंग IPS अधिकारी देवाशीष की मौत, बीजेपी नेता को थप्पड़ जड़कर आए थे चर्चा में

Published

on

जयपुर। महज छह फीट की उंचाई से नीचे गिरकर घायल हुए आईपीएस देवाशीष की आज मौत हो गई। यह आईपीएस डयूटी के दौरान कुर्सी से गिर गए थे। बताया जा रहा है कि करीब 10 महीने पहले यह हादसा हुआ था, तब से उनका अस्पताल में इलाज चल रहा था। देवाशीष इंपीरियल हाॅस्पिटल में काफी समय भर्ती थे, जहां आज उनकी मौत हो गई। जैसे ही देवाशीष की मौत की खबर मिली तो पूरे पुलिस महकमे में शोक की लहर छा गई।

39 वर्षीय देवाशीष बिहार के रहने वाले थे। साल-2013 बैच के आईपीएस देवाशीष की हैदराबाद में ट्रेनिंग हुई। देवाशीष राजस्थान का कैडर मिलते प्रोबेशन पीरियड पर चल रहे थे। देवाशीष अगस्त 2016 से अजमेर जिले में सीओ ब्यावर सिटी के पद पर कार्यरत थे।

जानकारी के मुताबिक पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के महंत सोमपुरी के निधन के बाद आईपीएस देवाशीष को उनकी अंतिम यात्रा की सुरक्षा की ड्यूटी में तैनात किया गया था। सुबह के समय जब आईपीएस देवाशीष ब्रह्मा मंदिर के बाहर चबूतरे पर बैठे हुए थे तो उनकी कुर्सी अचानक टूट गई। इस दौरान देवाशीष चबूतरे से गिर गए।

घटना के बाद उन्हें पुष्कर के राजकीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया। बाद में उन्हें जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में रैफर कर दिया गया, जहां डाॅक्टरों ने बताया कि देवाशीष के सिर और रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट आई। इससे देवाशीष के सरवाइकल डिस्क 6 व 7 के बीच खिसकने से स्पाइनल कोड पर दबाव पड़ गया और उनके शरीर के निचले हिस्से ने काम करना बंद कर दिया।

आईपीएस देवाशीष ने बीजेपी कार्यकर्ता को मारा था थप्पड़
खास बात ये है कि देवाशीष एक दंबग आईपीएस थे। उन्होंने कोटा और अजमेर में कई आपराधिक वारदातों का खुलासा किया था। लेकिन देवाशीष का नाम उस वक्त चर्चा में आया जब उन्होंने कोटा में एक बीजेपी कार्यकर्ता को थप्पड़ मार दिया था।

यह थप्पड़ उस वक्त मारा जब एक बीजेपी कार्यकर्ता एक पुलिसकर्मी से राजनीति की धौंस दिखाकर बदतमीजी कर रहा था। जब आईपीएस देवाशीष ने यह देखा तो उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं के बीच में उस बीजेपी कार्यकर्ता को थप्पड़ मार दिया और शांतिभंग के आरोप में अरेस्ट कर लिया। हालांकि इस घटना के बाद सभी बीजेपी कार्यकर्ता विरोध पर उतर आए थे। इस घटना के बाद काफी विवाद हुआ था।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

मुख्यमंत्री गहलोत ने राम मंदिर पर फैसले का किया स्वागत

—उन्होंने चेतावनी दी कि यदि प्रदेश में कोई भी गडबड़ी फैलाने का प्रयास करेगा, चाहे वो कोई भी जाति सम्प्रदाय का हो, उसके साथ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं

Published

जयपुर,(नसीब सैनी)।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राम मंदिर मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए प्रदेशवासियों से शांति और सौहार्द्र बनाए रखने की अपील की है। गहलोत शनिवार को मुख्यमंत्री आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।मुख्यमंत्री ने कहा, हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान और स्वागत करते हैं। कांग्रेस की सोच रही है कि देशवासी मिलजुल कर रहें, सौहार्द्र बना रहे यही हमारी संस्कृति रही है।

उम्मीद है कि शांति और सद्भाव के साथ फैसला लागू होगा। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि प्रदेश में कोई भी गडबड़ी फैलाने का प्रयास करेगा, चाहे वो कोई भी जाति सम्प्रदाय का हो, उसके साथ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। फैसले के बाद राम मंदिर मुद्दा खत्म होने पर भाजपा के नफा-नुकसान से संबंधित सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के सभी मुद्दे चुनावी होते हैं, जनता से उनका कोई सरोकार नहीं होता है। देश के हालात बद से बदतर हो रहे हैं।

महंगाई और बेरोजगारी बढ़ रही है। निवेश नहीं आ रहा है। अर्थव्यवस्था के हालात खराब हैं, लेकिन सरकार का ध्यान कतई इन महत्वपूर्ण मुद्दों पर नहीं है। भाजपा ने 25-30 साल में इस मुद्दे पर क्या किया, कितनी हिंसा हुई, सबको मालूम है। यदि उसी समय न्यायपालिका पर निर्भर रहते तो ये नौबत नहीं आती।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

अश्लील फोटो खींच महिला का यौनशोषण का आरोपी गिरफ्तार

—आरोपी रवि को गिरफ्तार करने के साथ पूछताछ की जा रही है

Published

जोधपुर,(नसीब सैनी)।

शहर की नागौरी गेट पुलिस ने बुधवार रात को दुष्कर्म के एक प्रकरण में आरोपित को गिरफ्तार किया। महिला की नहाते अश्लील फोटो खींच कर ब्लैकमेल कर यौन शोषण कर रहा था। अभियुक्त के खिलाफ पिछले महिने मामला दर्ज करवाया गया था।
नागौरी गेट थानाधिकारी जबर सिंह ने बताया कि गत दिनों कागा क्षेत्र की रहने वाली एक महिला ने रवि पुत्र विजय के खिलाफ रिपोर्ट दी थी।

महिला का आरोप था कि छह महिने पहले अभियुक्त के परिवार में उसके दादा की मौत हुई थी। तब पीडि़ता और उसके परिवार के लोग बारहवें आदि कार्यक्रम में गए थे। तब से रवि की उस पर नीयत खराब हो गई। वह बाद में गाहेबगाहे उसका पीछा करता और परेशान करने लगा। करीबन तीन महिने पहले वह बाथरूम में नहाने गई थी। तब अभियुक्त रवि दीवार फांद कर घर में घुस गया और अश्लील फोटो ग्राफ खींच लिए। इसके बाद से ही वह ब्लैकमेल करने के साथ यौन शोषण करने लगा। उसे कई बार समझाया गया मगर वह धमकाने लगा।

थानाधिकारी जबर सिंह ने बताया कि आरोपी रवि को गिरफ्तार करने के साथ पूछताछ की जा रही है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

भारत-फ्रांस सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास शक्ति-2019 कल से

—सैन्य प्रवक्ता कर्नल सोम्बित घोष के अनुसार भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व सप्त शक्ति कमान की सिख रेजिमेंट की टुकड़ी करेगी

Published

जोधपुर,(नसीब सैनी)।

भारत और फ्रांस की सेना के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास शक्ति परीक्षण   31 अक्टूबर को महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में शुरू होगा। चौदह दिन चलने वाले इस अभ्यास के लिए फ्रांसीसी सेना की टुकड़ी महाजन पहुंच गई है    जिसमे 38 सैनिक है। महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में इंडो-फ्रेंच युद्धाभ्यास शक्ति-2019 आगामी 13 नवंबर तक आयोजित होगा ।

द्विपक्षीय अभ्यास श्रृंखला का पांचवा संस्करण:

उल्लेखनीय है कि युद्धाभ्यास शक्ति-2019 के बैनर के तहत द्विपक्षीय अभ्यास की श्रृंखला में पांचवा संस्करण है। संयुक्त युद्धाभ्यास संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत अर्ध-रेगिस्तानी इलाके की पृष्ठभूमि में काउंटर टेररिज्म पर केंद्रित होगा। संयुक्त प्रशिक्षण में उच्च स्तर की शारीरिक क्षमता, सामरिक अभ्यास, तकनीक और प्रक्रिया पर ध्यान दिया जाएगा। अभ्यास के दौरान, संयुक्त योजना, कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन्स, सर्च  एंड  रेस्क्यू , संयुक्त सामरिक अभ्यास और विशेष हथियार कौशल का प्रशिक्षण किया जायेगा। शक्ति युद्धाभ्यास की शुरुआत वर्ष 2011 में की गई थी। दोनों देश की सेना दो-दो साल के अंतराल पर संयुक्त युद्धाभ्यास कर रही है। इसमें एक बार भारत में तथा अगली बार फ्रांस में अभ्यास हो रहा है।

सप्त शक्ति कमान सिख रेजिमेंट के हाथ :

सैन्य प्रवक्ता कर्नल सोम्बित घोष के अनुसार भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व सप्त शक्ति कमान की सिख रेजिमेंट की टुकड़ी करेगी। फ्रांसीसी सेना का प्रतिनिधित्व फ्रांस के 6वें बख्तरबंद ब्रिगेड की 21वीं समुद्री इन्फेंट्री रेजिमेंट के सैनिक करेंगे। फ्रांस-भारत का संयुक्त युद्धाभ्यास संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्देश पर रेगिस्तानी इलाके में काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन पर केंद्रित रखा गया है। दोनों देश के सैनिक उच्च स्तर की शारीरिक क्षमता, सामरिक स्तर पर अभ्यास को सांझा करने और एक-दूसरे के युद्ध कौशल को सीखने के लिए अभ्यास करते है। दोनों सेनाओं के बीच समझ, सहयोग और अन्तरसंक्रियता को बढ़ाना उद्देश्य है। युद्धाभ्यास का समापन 36 घंटे लम्बी एक्सरसाइज के साथ 13 नवम्बर को होगा जिसमें एक गांव में छिपे आतंकवादियों को ढूंढकर मार गिराने का प्रदर्शन किया जाएगा।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News17 घंटे पूर्व

दिल्ली : तीस हजारी कोर्ट में गोली चलाने वाले पुलिस जवानों की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक

---तीस हजारी कोर्ट में वकील पर गोली चलाने के आरोपित एएसआई पवन कुमार और एक अन्य पुलिसकर्मी ने दिल्ली हाई...

Top News21 घंटे पूर्व

लॉस एंजेलिस के स्कूल में गोलीबारी, बच्ची की मौत

---हमलावर बच्चे को हेलीकॉप्टर की मदद से पकड़ा गया

Top News4 दिन पूर्व

पंजाब: लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

---साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर ---जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है...

Top News5 दिन पूर्व

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक फोटो डालने वाले आरोपी को जेल

---पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार मिश्र के निर्देश पर सोशल मीडिया सेल ने आरोपी की पहचान कर दबोच लिया

Top News5 दिन पूर्व

पुलिस विवादित और भड़काऊ पोस्ट पर कर रही है गिरफ्तार

---सबसे अधिक ट्विटर पर 5294, फेसबुक 2220 और यू-ट्यूब के 167 वीडियो व प्रोफाइल के खिलाफ रिपोर्ट की गई

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market