Connect with us

खेल

दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब की टीम आईपीएल के मैदान में

Published

on

नई दिल्ली:
आईपीएल- दिल्ली डेयरडेविल्स को फिरोजशाह कोटला मैदान में सोमवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ होने वाले मैच में एक बड़ी जीत की दरकार होगी क्योंकी 11 में पांच मैच में से चार को हार चुकी हे दिल्ली के अब तक पांच मैचों में दो ही अंक हैं और वह तालिका में सबसे नीचे हैं। उसे पिछले दो मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है। शनिवार को उसे रायल चैलेंजर्स बेंगलोर के हाथों छह विकेट से मात खानी पड़ी थी। दिल्ली के लिए ऋषभ पंत फार्म में चल रहे हैं जबकि एक मैच में शानदार पारी खेलने के बाद जैसन रॉय अपने लय को कायम रखने में विफल रहे हैं। इसके अलावा कप्तान गौतम गंभीर सहित अन्य बल्लेबाज भी संघर्ष करते नजर आ रहे हैं। गेंदबाजी में राहुल तेवतिया और ट्रेंट बोल्ट अब तक सात-सात विकेट ले चुके हैं जबकि अन्य गेंदबाज उनका साथ नहीं दे पा रहे हैं। दोनों टीमों ने अब तक 21 मैच खेले हैं। जिसमें 12 में पंजाब जबकि 9 मैचों में दिल्ली ने जीत दर्ज की है। कोटला में 9 मैच खेले गए हैं। पांच में दिल्ली और चार मैच पंजाब ने अपने नाम किए है। दिल्ली का घर में प्रदर्शन काफी खराब रहा है। दिल्ली ने घर में कुल 55 मैच खेल हैं जिसमें से 23 मैच जीते हैं। दूसरी तरफ पंजाब पांच मैच में से चार मैच जीतकर तालिका में शीर्ष पर है। इस लीग में पंजाब ने पहले मैच में दिल्ली को छह विकेट से हराया था और वह एक बार फिर उसी प्रदर्शन को यहां भी बरकरार रखना चाहेगा। दिल्ली के लिए सबसे बड़ी चिंता क्रिस गेल के बल्ले को खामोश रखने की है। गेल का बल्ला इस समय जमकर रन उगल रहा है। गेल ने पिछले तीन मैचों में 63, नाबाद 104 और नाबाद 90 रन बनाए हैं। और पढ़ें: IPL 2018, RR vs MI: फिर आखिरी ओवर में हारा मुंबई, गौथम ने राजस्थान को दिलाई ‘रॉयल’ जीतगेल के इस विस्फोटक प्रदर्शन की बदौलत पंजाब लगातार पिछले तीन मैचों में जीत दर्ज करने में सफल रहा है। गेल तीन मैचों में 229 और लोकेश राहुल पांच मैचों में 213 रन बना चुके हैं। गेदबाजी में कप्तान रविचंद्रन अश्विन पांच और एंड्रयू टाई अब तक सात विकेट ले चुके हैं। दिल्ली को बेशक घरेलू दर्शकों का समर्थन मिले लेकिन पंजाब की टीम जिस तरह शानदार फार्म में चल रही है, उसे देखते हुए पंजाब को जीत का प्रबल दावेदार माना जा रहा है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

भारत ने तीसरे टी-20 में वेस्टइंडीज को दी करारी मात, 2-1 से जीती श्रृंखला

-241 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही

Published

मुंबई,(नसीब सैनी)।

भारतीय टीम ने बुधवार को मुंबई में खेले गए आखिरी टी-20 मैच में वेस्टइंडीज को 67 रनों के बड़े अंतर से हरा दिया। इसी के साथ भारत ने तीन टी-20 मैचों की श्रृंखला 2-1 से अपने नाम कर ली।

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए निर्णायक मुकाबले में वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। इसके बाद भारत ने बल्लेबाजी करते सालामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के ताबड़तोड़ 71 रन, केएल राहुल के 91 रन और कप्तान विराट कोहली के नाबाद 70 रन की पारी की बदौलत निर्धारित 20 ओवर में तीन विकेट पर 240 रन बनाकर वेस्टइंडीज को 241 रनों का विशाल लक्ष्य दिया। जवाब में मेहमान टीम 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 173 रन ही बना सकी और भारत ने इस मुकाबले को 67 रन के बड़े अंतर से अपने नाम कर लिया। वेस्टइंडीज की ओर से कप्तान पोलार्ड ने 69 रन की पारी खेली।

241 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम को पहला झटका ब्रैंडन किंग के रूप में लगा जो 5 रन बनाकर भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर केएल राहुल के हाथों कैच आउट हो गए। इसके बाद मोहम्मद शमी ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। शमी की गेंद पर श्रेयस अय्यर ने लेंडल सिमंस का कैच लपका। सिमंस 11 गेंदों में एक चौके के साथ 7 रन बनाकर पवेलियन लौटे। वेस्टइंडीज की टीम का तीसरा विकेट निकोलस पूरन के रूप में गिरा। पूरन दीपक चाहर की गेंद पर बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। इसके बाद कप्तान किरोन पोलार्ड ने शिमरन हेटमायर के साथ मिलकर टीम को संभाला और टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया।

मेहमान टीम को चौथा झटका शिमरन हेटमायर के रूप में लगा। हेटमायर 24 गेंदों में 41 रन बनाकर कुलदीप यादव की गेंद पर केएल राहुल के हाथों कैच आउट हो गए। इसके बाद वेस्टइंडीज को पांचवां झटका जेसन होल्डर के रूप में लगा। होल्डर को कुलदीप यादव ने आउट किया। होल्डर ने 8 रन बनाए। भारत को 14.6 ओवर में बड़ी सफलता मिली। खतरनाक हो रहे पोलार्ड को भुवनेश्वर ने कैच आउट कराया। पोलार्ड 39 गेंदों में 5 चौकों और 6 छक्कों के साथ 68 रनों की पारी खेलकर पवेलियन लौटे। वेस्टइंडीज टीम को सातवां झटका हेडेन वाल्श के रूप में लगा जो 11 रन बनाकर मोहम्मद शमी की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। टीम को आठवां झटका खैरी पियरे के रूप में लगा। पियरे दीपक चाहर की गेंद पर 6 रन बनाकर जडेजा के हाथों कैच आउट हुए। इस तरह मेहमान टीम निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 173 रन ही बना सकी।

भारत की तरफ से मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर और कुलदीप यादव ने क्रमश: दो-दो विकेट लिए।

इससे पहले टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने तेज शुरुआत की। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल की सलामी जोड़ी ने शुरुआती छह ओवर में टीम के स्कोर को 72 रन के पार पहुंचा दिया। इस बीच रोहित ने महज 23 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। वहीं, इसके बाद केएल राहुल ने भी अपना अर्धशतक पूरा किया। भारत को 11.4 ओवर में रोहित शर्मा के रूप में पहला झटका लगा। रोहित को केसरिक विलियम्स ने आउट किया। रोहित ने 6 चौके और 5 छक्के की मदद से 71 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली। रोहित ने राहुल के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 135 रन की साझेदारी की। भारत के स्कोर में अभी 3 ही रन जुड़े थे कि नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आए रिषभ पंत बिना खाता खोले आउट हो गए। पंत को किरोन पोलार्ड ने  आउट किया। हालांकि भारतीय टीम के स्कोरबोर्ड को धीमा नहीं होने दिया। कप्तान विराट कोहली ने केएल राहुल के साथ मिलकर टीम के स्कोर को तेजी से आगे बढ़ाया। दोनों ने मिलकर टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। 

भारत को तीसरा झटका केएल राहुल के रूप में लगा जो 91 रन बनाकर शेल्डन कॉटरेल की गेंद पर निकोलस पूरन के हाथों कैच आउट हुए। कोहली और राहुल ने तीसरे विकेट के लिए 95 रन की साझेदारी की। इसके बाद कोहली ने आखिरी गेंद पर छक्का लगा कर टीम के स्कोर 240 कर दिया। कप्तान विराट कोहली 70 रन बनाकर नाबाद लौटे।

वेस्टइंडीज के लिए शेल्डन कॉटरले, केसरिक विलियम्स और कीरोन पोलार्ड ने एक-एक विकेट लिए।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

एनआईए को मिला खत, टीम इंडिया निशाने पर

—भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की टी20 श्रृंखला तीन नवम्बर से शुरू होगी

Published

नई दिल्ली,(नसीब सैनी)।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को मिले एक खत में कहा गया है कि भारत-बांग्लादेश के बीच होने वाली आगामी क्रिकेट श्रृंखला के दौरान टीम इंडिया को खतरा है। खतरे को देखते हुए दिल्ली पुलिस को भारतीय टीम की सुरक्षा अधिक चौकस करने को कहा गया है।

भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की टी20 श्रृंखला तीन नवम्बर से शुरू होगी। इसके बाद दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला भी होगी। पहला मैच दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेला जाएगा।राष्ट्रीय जांच एजेंसी को प्राप्त इस पत्र को दिल्ली पुलिस और भारतीय क्रिकट नियंत्रण बोर्ड (बीसीसीआई) को भी भेजा गया है।

इस अज्ञात पत्र में कहा गया है कि कोझीकोड में बना ‘ऑल इंडिया लश्कर’ भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली और दिल्ली में होने वाले टी20 मुकाबले में मौजूद अन्य प्रमुख नेताओं को निशाना बना सकता है। हालांकि कोहली टी20 श्रृंखला का हिस्सा नहीं है और उनके स्थान पर रोहित शर्मा टीम का नेतृत्व करेंगे। माना जा रहा है कि यह खत फर्जी हो सकता है लेकिन खतरे को देखते हुए सुरक्षा को चाक चौबंद करना जरूरी हो जाता है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

गांगुली ने संभाला बीसीसीआई अध्यक्ष पद का कार्यभार

—65 साल के इतिहास में बीसीसीआई अध्यक्ष बनने वाले पहले क्रिकेटर बने

Published

मुंबई,(नसीब सैनी)।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने बुधवार को यहां भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष का पदभार संभाल लिया। गांगुली को वार्षिक आम बैठक (एजीएम) के दौरान अध्यक्ष के रूप में चुना गया था जो बीसीसीआई मुख्यालय में आयोजित किया गया था। गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह सचिव और उत्तराखंड के महीम वर्मा नए उपाध्यक्ष हैं। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल कोषाध्यक्ष, जबकि केरल के जयेश जॉर्ज संयुक्त सचिव बने।

गांगुली का कार्यकाल 9 महीने का ही होगा और उन्हें जुलाई में पद छोड़ना होगा, क्योंकि नए संविधान के प्रावधानों के तहत छह साल के कार्यकाल के बाद ‘विश्राम की अवधि’ अनिवार्य है।

बुधवार को बीसीसीआई ने ट्वीट किया, “यह आधिकारिक है, सौरव गांगुली औपचारिक रूप से बीसीसीआई के अध्यक्ष चुने गए।”

प्रशासकों की समिति (सीओए) के सदस्य डायना एडुल्जी ने बीसीसीआई मुख्यालय में अपने आगमन के दौरान संवाददाताओं से कहा, “मैं बहुत खुश हूं कि एक क्रिकेटर अध्यक्ष  बनने जा रहा है और मुझे उम्मीद है कि वह इसे महान ऊंचाइयों पर ले जाएगा।”

इसके साथ ही सर्वोच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) का 33 महीने से चला आ रहा शासन भी खत्म हो गया है।

उल्लेखनीय है कि पदभार संभालते ही गांगुली ने ऐतिहासिक उपलब्धि भी हासिल कर ली। गांगुली 65 साल बाद ऐसे पहले टेस्ट क्रिकेटर हैं, जो बीसीसीआई के अध्यक्ष पद पर काबिज हुए।  इससे पहले टेस्ट क्रिकेटर के तौर पर  महाराजा कुमार विजयनगरम बीसीसीआई का अध्यक्ष बने थे, जो 1954 से 1956 तक इस पद पर रहे।

हालांकि टेस्ट क्रिकेटर सुनील गावस्कर और शिवलाल यादव भी वर्ष 2014 में इस पद पर रहे, लेकिन ये दोनों ही क्रिकेटर अंतरिम अध्यक्ष रहे थे। इसके बाद एन. श्रीनिवासन के बाद उनकी नियुक्ति हुई थी।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News6 घंटे पूर्व

हैदराबाद एनकाउंटर की जांच करेगा तीन सदस्यीय न्यायिक आयोग

--सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज वीएस सिरपुरकर की अध्यक्षता वाले आयोग को 6 माह में देनी होगी रिपोर्ट ---सुप्रीम कोर्ट...

Top News8 घंटे पूर्व

मेरठ : आजाद भारत में पहली बार होगी चार दोषियों को फांसी

---पहली बार चार लोगों को होगी फांसी

Top News8 घंटे पूर्व

अफगानिस्तान में तालिबानी हमले में तीन लोगों की मौत, 70 घायल

---अमेरिकी मीडिया के अनुसार तालिबान लड़ाकों की कोशिश सेंटर तक पहुँचने की थी। अफ़ग़ानी सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें पहले ही रोक...

Top News1 दिन पूर्व

साइबर क्राइम : फेसबुक यूजर रहे सावधान

---पुलिस कहना है कि साइबर क्रिमिनल आपकी फेसबुक प्रोफाइल से आपकी फोटो डाउनलोड करके एक न्यू प्रोफाइल बना लेते हैं...

Top News1 दिन पूर्व

दिल्ली अग्निकांड : नवीन का शव बड़ी जाना गांव पहुँचते ही गम में डूबे ग्रामीण

--शव आते ही ग्रामीण के साथ-साथ आसपास के गांव वालों का भी हुजूम उमड़ पड़ा

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market