Connect with us

पंजाब

पंचायती ज़मीन की इस साल बोली से 307 करोड़ आमदनी हुई, पिछले साल से 15 करोड़ आमदनी ज्यादा

Published

on

चंडीगड़। पंजाब के ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री स. तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा द्वारा कृषि योग्य शामलाट जमीनों की बोली को पारदर्शी ढंग के साथ करवाने की दीं गई हिदायतें के निष्कर्ष के तौर पर इस साल 307 करोड़ रुपए की आमदनी हुई है। यह आमदन पिछले साल हुई आमदन से पाँच प्रतिशत अधिक हुई है। पंजाब में आज तक पंचायती ज़मीनें की हुई बोली से इस साल सबसे अधिक आमदनी हुई है।

पंजाब सरकार के प्रवक्ता ने इस संबंधी जानकारी देते बताया कि राज्य में 1,45,000 एकड़ कृषि योग्य पंचायती ज़मीन बोली के लिए उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि पिछले साल पंचायती ज़मीनें की बोली से 292 करोड़ रुपए कुल आमदनी हुई थी, जबकि इस साल पंचायती ज़मीनें की बोली से 307 करोड़ रुपए आमदन हुई है। उन्होंने आगे बताया कि पिछले साल 20500 रुपए प्रति एकड़ आमदन के मुकाबले इस साल 22000 रुपए प्रति एकड़ आमदन हुई है। उन्होंनें साथ ही बताया कि राज्य भर में से प्रति एकड़ औसतन आमदन में से संगरूर जि़ला सब से अग्रणीय रहा, जहां औसतन आमदन 32000 हज़ार रुपए प्रति एकड़ से अधिक रही है। इसके अलावा मौजूदा साल में गुरदासपुर जि़ला औसत आमदन वृद्धि में आगे रहा, जहां बढ़ोतरी 15 प्रतिशत हुई है।

प्रवक्ता ने आगे बताया कि कृषि योग्य पंचायती ज़मीनें की बोली को और अधिक पारदर्शी बनाने के लिए ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री जी की हिदायतें पर 50 एकड़ या इस से अधिक क्षेत्रफल वाली पंचायती ज़मीनें की बोली अधिक डिप्टी कमिशनर विकास की निगरानी अधीन करवाई गई।
पंजाब के ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री स. तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा ने पंचायत विभाग के आधिकारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई देते पंचायतों को न्योता दिया है कि इस आमदन को गांवों की सर्वपक्षीय विकास के लिए पारदर्शी ढंग से खर्चा जाये। उन्होंने साथ ही कहा कि उच्च दर्जो के विकास कार्य करवाए जाएँ और यदि कोई अनियमितताएं डालीं गई तो सम्बन्धित के खि़लाफ़ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

अकाली दल अध्यक्ष पद बादल परिवार में रहेगा या बाहर, फैसला आज

—देश भर से 600 से अधिक डेलीगेट इस इजलास में शामिल होंगे और अध्यक्ष पद के चुनाव पर सहमति की मुहर लगायेंगे

Published

अमृतसर /चंडीगढ़ ,(नसीब सैनी)।

98 वर्ष पूरे कर चुके पंजाब के राजनीतिक दल शिरोमणी अकाली दल का आज 99वां स्थापना दिवस है। आज ही अकाली दल के अध्यक्ष का चुनाव होना है। वर्तमान में अकाली दल की कमान बादल परिवार में है। सुखबीर सिंह बादल पार्टी के अध्यक्ष चले आ रहे हैं। अकाली दल का कुनबा बढ़ेगा या फिर कम होगा, इसका फैसला आज होने वाले अध्यक्ष पद के चुनाव के बाद होगा। 

पार्टी के वरिष्ठ नेता सुखदेव सिंह ढींडसा अध्यक्ष व अन्य पदों की चुनाव प्रक्रिया पर सवाल उठा चुके हैं, जबकि अलग हुए वरिष्ठ नेता और अकाली दल टकसाली का कहना है कि अगर प्रकाश सिंह बादल पार्टी की कमान संभाले या बादल परिवार के अतिरिक्त किसी अन्य वरिष्ठ नेता को कमान दी जाए तो पार्टी मजबूत होगी। फिलहाल आगे भी अकाली दल की कमान परिवारवाद के दायरे में रहेगी या फिर परिवारवाद के बाहर रहेगी , इसका निर्णय भी आज होगा।  
दिलचस्प बात ये भी है कि एक तरफ अकाली दल अपना स्थापना दिवस मना रहा है  तो दूसरी तरफ अकाली दल के अस्तित्व को लेकर होशियारपुर की एक अदालत में चुनौती दी गई है और अदालत अकाली नेताओं को जमानत के लिए समन जारी कर रही है। 

आज दोपहर श्री हरिमंदिर साहिब समूह में अकाली दल द्वारा रखवाए अखंड पाठ के भोग डाले जायेंगे और बाद में तेजा सिंह समुंद्री हाल में पार्टी का डेलीगेट इजलास होगा। देश भर से 600 से अधिक डेलीगेट इस इजलास में शामिल होंगे और अध्यक्ष पद के चुनाव पर सहमति की मुहर लगायेंगे। स्वास्थ्य के मद्देनज़र प्रकाश सिंह बादल के इस इजलास में न पहुंच पाने की उम्मीद की जा रही है, क्योंकि डाक्टरों ने उन्हें आराम की सलाह दी है। दूसरे बड़े नेता सुखदेव सिंह ढींडसा की विचारधारा ही सुखबीर सिंह बादल से अलग है, इसलिए उनके भी न शामिल होने के कयास हैं। वैसे भी ढींढसा दो दिन पूर्व टकसाली अकाली नेताओं से बैठक करके शिरोमणी अकाली दल में हलचल बढ़ा चुके है और साथ ही अकाली दल के अतिरिक्त किसी अन्य पार्टी ने न शामिल होने की बात कह चुके है। ढींढसा के कहना था कि अकाली दल में पदाधिकारियों के चुनाव की प्रणाली को ही खराब कर दिया गया है। 

इधर, टकसाली दल में नेता रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा का कहना था  कि हालांकि सुखबीर सिंह बादल के ही अध्यक्ष रहने की 99 प्रतिशत उम्मीद है परन्तु अगर बड़े बादल अध्यक्ष पद संभालते हैं तो पार्टी मजबूत हो सकती है। अन्यथा पार्टी को टूटने से कोई नहीं रोक सकता। अकाली दल टकसाली अलग से अकाली दल का स्थापना दिवस मना रहा है। टकसाली अपना कार्यक्रम चीफ खालसा दीवान के गुरु हरि कृष्ण पब्लिक स्कूल के ऑडीटोरियम में कर रहे हैं।

नसीब सैनी

Continue Reading

देश

दिल्ली की सुबह ने कराया ठंड और धुंध का अहसास

—मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली और उसके आस पास इलाकों में न्यूनतम तापमान की वजह इस समय उत्तरी हवाएं है, जो दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में चल रही हैं

Published

नई दिल्ली,(नसीब सैनी)।

दिल्ली-एनसीआर में ठंड तेजी से बढ़ा रही है। शनिवार की सुबह धुंध ने भी अपना असर दिखाया। 

ठंड से निजात पाने के लिए लोगों गर्म कपड़े पहने दिखाई दिए। शनिवार को दिन में धूप तो निकली लेकिन हल्की मध्यम गति से चल रही हवाओं ने लोगों को खासा ठंडक का अहसास कराया। राजधानी के कई इलाकों में कोहरा देखने को भी मिला। दिल्ली में आज का न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य तापमान से एक डिग्री नीचे पाया गया।

मौसम विभाग की स्थानीय वेधशाला सफदरजंग के अनुसार सुबह साढ़े आठ बजे आपेक्षिक आर्द्रता 100 फीसदी दर्ज की गई। दिन के समय मध्यम कोहरा पड़ने की संभावना है। पूरे दिन राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने की उम्मीद है।

मौसम विभाग के अनुसार राजधानी दिल्ली में मंलगवार तक न्यूनतम पारे में खासी कमी दिखने को मिल सकती है। इस दौरान पारा 9 डिग्री तक जाने की संभावना बनी हुई है, जिसकी वजह लोगों को सुबह और शाम को जनवरी के समय पड़ने वाली ठिठुरन वाली सर्दी का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कोहरे के साथ-साथ तेज हवाएं भी चलेंगी। अधिकतम तापमान की बात करें तो इसके एक से दो डिग्री तक नीचे जाने की संभावना बनी हुई है। यानी 24 से लेकर 23 डिग्री सेल्सियस तक।

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली और उसके आस पास इलाकों में न्यूनतम तापमान की वजह इस समय उत्तरी हवाएं है, जो दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में चल रही हैं। उन्होंने बताया कि रात के तापमान में एक से दो डिग्री तक कमी दर्ज की जा सकती है। इसके अलावा दिल्ली एनसीआर का मौसम शुष्क बना रहेगा।

दिल्ली में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 24.9 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से एक डिग्री कम है।  न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

पंजाब: लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

—साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर
—जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है पूरा मामला

Published

चंडीगढ़,(नसीब सैनी)।

पंजाब पुलिस ने एक महिला समेत दो खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को टेरर फंडिंग के साथ जोड़ा जा रहा है। आरोपित महिला लुधियाना के एक अस्पताल में नर्स की नौकरी कर रही थी। नर्सिंग की आड़ में वह खालिस्तानी गतिविधियों में भी लिप्त थी। दोनों के निशाने पर पंजाब के हिन्दू संगठनों के नेता थे और बहुत जल्द पाकिस्तानी एजेंसी से उनके पास ग्रेनेड व हथियार भेजे जाने थे। 

पंजाब पुलिस के ऑपरेशन सेल ने 2 खालिस्तानी आतंकियों को सोमवार को देर शाम गिरफ्तार किया, जिसमें एक महिला भी शामिल है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि उक्त महिला नर्स की नौकरी करते हुए अपने साथ कई अन्य महिलाओं को जोड़ने का काम कर रही थी जबकि उसका साथी गुरदासपुर से गिरफ्तार किया गया है। 

आरोपित पुरुष दुबई में बतौर ड्राइवर काम कर चुका है। इन दिनों पंजाब आया हुआ था। गिरफ्तार की गई महिला की शिनाख्त सुरिंदर कौर के रूप में हुई है। आरोपित महिला फरीदकोट की रहने वाली है जो लुधियाना के एक निजी अस्पताल में बतौर नर्स काम करती थी। सुरिंदर कौर के साथी की पहचान लखबीर सिंह (23) के रूप में हुई है जो होशियारपुर का रहने वाला है और दुबई में बतौर ड्राइवर काम कर चुका है। दोनों व्हाट्सएप कॉल के जरिए एक-दूसरे से जुड़े हुए थे।

पूछताछ में पता चला है कि उनको जल्द ही पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई की मदद मिलने वाली थी। आईएसआई और विदेशों में बैठे खालिस्तानी आतंकियों के एक हैंड ग्रेनेड की खेप पंजाब में भेजी जानी थी। इस खेप को इन्हें पंजाब में एक्टिव खालिस्तानी आतंकियों और उनके स्लीपर सेलों को डिलीवर करना था। इन दोनों को विदेशों में बैठे खालिस्तानी आतंकियों द्वारा लगातार फंडिंग की जा रही थी। नर्सिंग के काम की आड़ में आतंकी गतिविधि सुरेंद्र कौर की उम्र 33 वर्ष है वो अविवाहित है। वह मूल रूप से पंजाब के फरीदकोट की रहने वाली है। इन दोनों की कॉल डिटेल और बैंक अकाउंट से पुलिस ने ट्रेस किया कि ये दोनों खालिस्तानी समर्थक आतंकी गतिविधियों में शामिल थे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News6 महीना पूर्व

रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर 5 फरवरी तक जारी रहेगी रोक

---हाईकोर्ट जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की कोर्ट ने अधिवक्ता भंवरसिंह मेड़तिया के निधन के बाद कोर्ट में 3.45 बजे रेफरेंस...

Top News6 महीना पूर्व

बिजनौर कोर्ट शूटकांड : हाईकोर्ट ने डीजीपी और अपर मुख्य सचिव (गृह) को किया तलब

---दरअसल, बिजनौर में 28 मई को नजीबाबाद में हुई बसपा नेता हाजी अहसान व उनके भांजे शादाब की हत्या के...

Top News6 महीना पूर्व

निर्भया केस: दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका खारिज, फांसी की सजा बरकरार

---सुप्रीम कोर्ट ने कहा-पुनर्विचार याचिका में कोई नए तथ्य नहीं, इसलिए ख़ारिज होने योग्य

Top News6 महीना पूर्व

कतर टी-10 लीग पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की आईसीसी ने शुरु की जांच

--उल्लेखनीय है कि कतर टी-10 लीग का आयोजन सात से 16 दिसम्बर तक कतर क्रिकेट संघ ने किया था

Top News6 महीना पूर्व

बिजनौर कोर्ट रूम में हुई हत्या मामले में चौकी प्रभारी समेत 18 पुलिसकर्मी सस्पेंड

---एसपी ने बताया कि कोर्ट में दिनदहाड़े कुख्यात बदमाश शाहनवाज की हत्या के बाद जजी परिसर में सुरक्षा की पोल...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market