Connect with us

महाराष्ट्र

प्रफुल्ल पटेल बोले- शरद पवार 2019 में प्रधानमंत्री बन सकते हैं

Published

on

रायगढ़ (महाराष्ट्र)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता प्रफुल्ल पटेल ने सोमवार को कहा कि पार्टी प्रमुख शरद पवार 2019 के आम चुनाव के बाद प्रधानमंत्री बन सकते हैं।
पटेल ने करजत में सोमवार को पार्टी के दो दिवसीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘2019 राकांपा और शरद पवार का वर्ष साबित होगा। बदलते राजनीतिक हालात में, उनकी(पवार) महत्वाकांक्षा पूरी हो सकती है। वह प्रधानमंत्री बन सकते हैं।’’

पूर्व केद्रीय मंत्री ने कहा कि पवार देश की अगुवाई करने में सक्षम हैं और राकांपा कार्यकर्ताओं को इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत करनी चाहिए। पटेल ने ध्यान दिलाते हुए कहा, ‘‘पवार देश की राजनीति में बड़ा नाम हैं। यहां तक कि प्रधानमंत्री संसद में उनको सुनते हैं।’’

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

महाराष्ट्र में स्थिर सरकार बनाने की कोशिश जारी: संजय राऊत

—उल्लेखनीय है कि सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से चर्चा के बाद शरद पवार ने कहा था कि शिवसेना को लेकर सरकार बनाने की कोई बात सोनिया गांधी से नहीं हुई

Published

मुंबई( नसीब सैनी)।

शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने मंगलवार को कहा कि महाराष्ट्र में स्थिर सरकार बनाने का प्रयास जारी है। जल्द ही राज्य को राष्ट्रपति शासन से मुक्त मिलेगी। शिवसेना -राकांपा -कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनेगी। उन्होंने पत्रकारों से कहा, शरद पवार देश के अनुभवी नेता हैं और उन्हें समझने के लिए 100 बार जन्म लेना पड़ेगा। पवार के नेतृत्व में सरकार गठन पर काम चल रहा है। सरकार बनने के बाद विधानसभा में शिवसेना 170 विधायकों के समर्थन को साबित कर देगी। सरकार बनाने को लेकर शिवसेना में किसी तरह की जल्दबाजी अथवा संभ्रम में नहीं है।  राऊत ने कहा  कुछ लोग सरकार गठन में अड़चन पैदा कर रहे हैं। भाजपा ने अपना सबसे बड़ा साथी गंवा दिया है। अब शिवसेना किसानों के मुद्दे पर आक्रामक भूमिका अख्तियार करने वाली है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से चर्चा के बाद शरद पवार ने कहा था कि शिवसेना को लेकर सरकार बनाने की कोई बात सोनिया गांधी से नहीं हुई। वह अपने गठबंधन दल के साथियों के साथ इस बारे में चर्चा करने के बाद ही कोई निर्णय ले सकते हैं। इससे राज्य में सत्ता गठन को लेकर चर्चा शुरु हो गई थी। इस पर संजय राऊत ने कहा कि शरद पवार राज्य में एक बड़े दल के नेता हैं और उनकी पार्टी गठबंधन कर चुनाव लड़ी है। इसलिए उनका गठबंधन दल के साथियों के साथ चर्चा करना जरूरी है।

राऊत ने कहा कि गैर भाजपा दल के सभी नेता चाहते हैं कि राज्य में राष्ट्रपति शासन खत्म हो। इस बीच सूत्रों ने कहा है कि दिल्ली में शरद पवार की सोनिया गांधी से शिवसेना -राकांपा-कांग्रेस की सरकार बनाने पर वृहद चर्चा हुई। इस चर्चा में शिवसेना का पांच साल तक मुख्यमंत्री, राकांपा व कांग्रेस का उप मुख्यमंत्री बनाने पर चर्चा हुई। संख्याबल के अनुसार विभागों के बंटवारे पर अंतिम निर्णय लिया गया। विधानसभा अध्यक्ष के लिए कांग्रेस और राकांपा आपस में तय करेंगे।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

उद्धव ठाकरे का अयोध्या दौरा स्थगित

—अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद उद्धव ठाकरे ने 9 नवम्बर को अयोध्या दौरे की घोषणा की थी

Published

अयोध्या,(नसीब सैनी)।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे 24 नवम्बर को अयोध्या नहीं पहुंच रहे। उन्होंने अपना कार्यक्रम स्थगित कर दिया है। ठाकरे रामजन्म भूमि के दर्शन के लिए आ रहे थे। 

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद उद्धव ठाकरे ने 9 नवम्बर को अयोध्या दौरे की  घोषणा की थी। तब से शिवसैनिक उनके स्वागत की तैयारी कर रहे थे। दौरा स्थगित होने से उनका उत्साह फीका पड़ गया है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

एनडीए की बैठक में शामिल नहीं होगी शिवसेना

–आगे उचित समय आने पर पार्टी की भूमिका स्पष्ट करेंगे।

Published

मुंबई,(नसीब सैनी)।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि दिल्ली में होने वाली एनडीए घटक दल की बैठक में शिवसेना शामिल नहीं होगी। उन्होंने यह जानकारी शनिवार को मुंबई में दी।

राउत की पत्रकार परिषद होने वाली थी लेकिन वह रद्द कर दी गई। हालांकि एनडीए की बैठक में शामिल होने के सवाल पर उन्होंने साफ किया कि बैठक में शिवसेना की उपस्थिति नहीं रहेगी। राउत ने कहा कि उन्हें जो बोलना है, वह आज शिवसेना के मुखपत्र सामना के माध्यम से बोल चुके हैं। अब कुछ कहने के लिए नहीं है।

आगे उचित समय आने पर पार्टी की भूमिका स्पष्ट करेंगे। 
 इधर खबर है कि एनडीए की बैठक के लिए शिवसेना को आमंत्रण नहीं भेजा गया है। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर दोनो दलों में खटास आई है। मुख्यमंत्री पद और सत्ता में समान भागीदारी की मांग पर अड़ी शिवसेना ने भाजपा से दूरी बना ली। सरकार गठन को लेकर शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन के नए समीकरण की कवायद जारी है। शिवसेना सांसद अरविंद सावंत केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे चुके हैं।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News24 मिन पूर्व

जिले में दर्ज हुआ तीन तलाक का पहला मामला

---थाना प्रभारी चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है

Top News1 दिन पूर्व

तलाकशुदा महिला से दुष्कर्म, मामला दर्ज

---पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की

Top News1 दिन पूर्व

फेसबुक पर मांदुर्गा को लेकर अभद्र टिप्पणी, केस दर्ज

---आरोपित पेशे से दुकानदार है

Top News3 दिन पूर्व

अंग्रेजी मीडियम कल्चर में फिट नहीं हो पा रही थी छात्रा, की खुदकुशी

---पुलिस ने बताया कि रात को उसने दोस्तों के साथ पिकनिक किया था जिसके बाद ही फांसी लगाई है

Top News3 दिन पूर्व

लॉस एंजेल्स में गोलीबारी करने वाला छात्र एशियाई

---पुलिस रिकार्ड के अनुसार उसके पिता और उसकी मां के बी 2015 में झगड़ा हुआ था। इसके बाद उसके पिता...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market