Connect with us

लाइफस्टाइल

वजन घटाने के लिए सिर्फ…..पक्का इरादा

Published

on

अक्सर हम सभी के मन में सवाल उठता है कि खाने की तलब को कैसे कंट्रोल किया जाए। या फिर यह कैसे मुमकिन है कि हम पसंद का खाएं और फिर भी वजन न बढे। आपके इन सवालों का जवाब हमारे पास है। बस आपको 5 नियमों का पालन करना होगा। इनमें तीन बातें खासतौर पर अहम हैं- एटिट्यूड, प्लानिंग और पक्का इरादा।

खाने खाते समय टीवी से दूर रहें
खाना, पीना, झपकी लेना और चैनल बदलते रहना, अगर आपका ज्यादा वक्त इन सब कामों में बीतता है तो आपका वजन बढना तय है। सबसे पहले अपने लिए हेल्थी और हल्का खाना चुनें, फिर प्लेट में उतना ही रखें, जितना आपके लिए जरूरी हो। इस बात का पूरा ध्यान रखें कि आप क्या और कितना खा रहे हैं।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

त्योहारी सीजन: दीयों से रोशन होंगे घर, डिजाइनदार करवों की भी डिमांड

त्योहारी सीजन: दीयों से रोशन होंगे घर, डिजाइनदार करवों की भी डिमांड

Published

सिरसा। त्योहारी सीजन शुरू हो चुका है। दीपावली पर बिकने वाले दीयों की डिमांड भी इस बार आसमान में पहुंच गई है। क्योंकि चाइनीज माल बंद होने के कारण स्वदेशी माल की डिमांड ज्यादा है। इसका असर कुम्हार परिवारों पर भी देखने को मिला है। दीपावली पर बिकने वाले दीयों की डिमांड इतनी बढ़ गई है कि कुम्हार परिवार दिनरात दीये तैयार करने में जुटे हुए हैं।

शहर में करीब 100 कुम्हार परिवार दीये तैयार कर रहे हैं। हालांकि पिछले वर्ष दीपावली पर 10 लाख दीये बनाने के ऑर्डर कुम्हार परिवारों के पास पहुंचे थे। इस बार डिमांड 30 लाख दीये बनाने की है। कुम्हार परिवारों को कई बड़े ऑर्डर कैंसिल भी करने पड़े हैं। अब तक 5 लाख से ज्यादा तैयार दीयों की पंजाब, राजस्थान, हरियाणा, चंडीगढ़, जम्मू में डिलिवरी हो चुकी है।

लॉकडाउन लगने के कारण कुम्हारों का काम पूरी तरह ठप होकर रह गया था। मिट्‌टी न आने के चलते न तो दीये बन पाए और न ही अन्य आइटम। चाइनीज आइटम बंद होने से दीयों की बढ़ी डिमांड देश में लॉकडाउन लगने के बाद चाइनीज आइटम पर रोक लग गई। जिस कारण लोग भी चाइनीज आइटम खरीदने से परहेज करने लगे। ऐसे में मिट्‌टी के दीयों व अन्य सामान की डिमांड बढ़ गई।

मिट्‌टी के डिजाइनदार करवों की बढ़ी डिमांड

मनीष कुमार व संदीप कुमार ने बताया कि वे पिछले 10 वर्षों से मिट्‌टी के दीये व करवे तैयार कर रहे हैं। इस बार डिजाइनदार करवों की डिमांड है। लोग परंपरागत देसी मिट्‌टी के दीयों की और लोगों का रूझान ज्यादा है। लोग अलग-अलग प्रकार के डिजाइन के करवे खरीदना पसंद करते हैं।

Continue Reading

Top News

डेंगू का डंक:प्लेटलेट्स के लिए प्राइवेट अस्पताल वसूलरहे 20-25 हजार रुपए तक, सोनीपत में हंगामा, आधे जिलों में अस्पतालों के डेंगू वार्ड हुए फुल

डेंगू का डंक:प्लेटलेट्स के लिए प्राइवेट अस्पताल वसूलरहे 20-25 हजार रुपए तक, सोनीपत में हंगामा, आधे जिलों में अस्पतालों के डेंगू वार्ड हुए फुल

Published

प्रदेश में डेंगू के मामले लगातार आने से प्लेटलेट्स की डिमांड कई गुना तक बढ़ गई। आधे से ज्यादा हरियाणा में हालात बेकाबू हैं। सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में बुखार पीड़ितों की लाइनें लगी हैं, लेकिन विभाग सिर्फ कुछ जगह ही फॉगिंग करने तक सीमित है।

प्रदेश के करीब 12 जिलों में मरीजों को प्लेटलेट्स मिलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यमुनानगर में सबसे ज्यादा रोज 200 यूनिट प्लेटलेट्स की मांग है, जिसे पूरा करने में विभाग के पसीने छूट रहे हैं। रोहतक में रोज 180 यूनिट की डिमांड आ रही है। दूसरी ओर निजी अस्पताल लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर मनमुताबिक दाम वसूल हैं। महेंद्रगढ़ में एक मरीज ने बताया कि प्राइवेट अस्पताल में मरीजों से प्लेटलेट्स चढ़ाने के नाम पर 25 से 30 हजार रुपए वसूले जा रहे हैं।

सोनीपत में बुधवार को सरकारी अस्पताल में मरीजों को लाइन में लगाने के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। इससे पहले मरीजों ने इलाज न मिलने की बात कहते हुए हंगामा किया। मरीज के परिजन ने आरोप लगाया कि जानकारों को अंदर भेजा जा रहा है, उन्हें बाहर ही रोक रहे हैं। पुलिस ने मरीजों की लाइनें लगवाईं।

सिटी के सरकारी अस्पताल में पंजाब के लालड़ू के मरीज काे इमरजेंसी से डेंगू वार्ड में शिफ्ट किया गया था। मरीज काे वार्ड में जगह नहीं मिली ताे बरामदे में पहले सीटिंग चेयर पर लेटा दिया। ड्रिप के लिए स्टैंड नहीं मिला ताे साथ आए व्यक्ति उसे हाथ में पकड़कर खड़ा हाे गया। बाद में उसे बरामदे में बेड मिला ताे वहां ड्रिप के लिए स्टैंड नहीं मिला। ऐसे में बिजली की फिटिंग वाले पाइप में ड्रिप लगा दी गई।

इन 2 मामलों से समझिए, सरकारी अस्पतालों के हालात

अम्बाला में देने पड़ रहे 11 हजार रुपए

डेंगू के अब तक 122 मामले सामने आए हैं। सिटी व कैंट अस्पताल के वार्डों में मरीजों को जगह नहीं मिल रही। मरीज इमरजेंसी में भी एडमिट करने पड़ रहे हैं। सरकार की तरफ से प्लेटलेट्स फ्री देने पर सीएमओ ऑफिस के डॉक्टर सुखप्रीत ने बताया कि सभी मरीजों को फ्री देने का नोटिफिकेशन नहीं आया है है। सामान्य मरीजों को प्लेटलेट्स के लिए 11 हजार रुपए व डोनर देना पड़ रहा है।

रोहतक में रोज 180 यूनिट की मांग

रोहतक में रोज औसतन 180 यूनिट प्लेटलेट्स की मांग आ रही है। बहादुरगढ़ निवासी सोनू ने बताया कि 8 वर्षीय बेटे अभिषेक डेंगू होने से बीमार है। रोहतक शहर के सांघी नर्सिंग होम में इलाज चल रहा है। मंगलवार को प्लेटलेट्स के लिए परेशान होना पड़ा था। निजी ब्लड बैंक में डोनर उपलब्ध कराने पर 5 घंटे इंतजार के बाद देर शाम प्लेटलेट्स उपलब्ध हो पाए।

Continue Reading

Top News

डेंगू से डरें नहीं बल्कि लड़ें, लक्षण मिलने पर तुरंत करवाएं अस्पताल में इलाज, घर व आसपास रखें साफ-सफाई : डीसी प्रदीप दहिया

डेंगू से डरें नहीं बल्कि लड़ें

Published

कैथल, 1 अक्तूबर ( चौथाखंभा न्यूज़ ) उपायुक्त प्रदीप दहिया ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा डेंगू के आशंकित इलाकों में फॉगिंग करवाई जा रही है ताकि डेंगू के लार्वा को खत्म किया जा सके। स्वास्थ्य विभाग की टीम को 94 जगहों पर डेंगू का लार्वा मिला है, जिसमें 52 शहरी क्षेत्र में तथा 42 जगह ग्रामीण क्षेत्र में लार्वा पाया गया है। विभाग द्वारा संबंधितों को नोटिस जारी करते हुए लार्वा को नष्ट किया गया है। अब तक 1160 लोगों को नोटिस जारी किया गया है। स्वास्थ्य विभाग डेंगू के सैम्पल भी लिए जा रहे हैं।


उपायुक्त प्रदीप दहिया डेंगू के मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कार्यालय में बैठक कर रहे थे। उपायुक्त ने सीएमओ निर्देश देते हुए कहा कि बुखार से पीड़ित सभी लोगों के सैंपल लेते रहें और जिले वासियों को डेंगू से बचाव के प्रति भी जागरूक करते रहें। उन्होंने आह्वान किया जिला वासियों को डेंगू से घबराने की जरूरत नहीं है, अगर किसी व्यक्ति में डेंगू के लक्षण नजर आए तो उन्हें तुरंत सरकारी अस्पताल या अपने नजदीकी अस्पताल में डेंगू का इलाज करवाएं। अपने घरों में लार्वा न पनपने दें और घर के आस-पास साफ-सफाई रखें।
सीएमओ डॉ. जयंत आहूजा ने बताया कि डेंगू के शुरूआती लक्षणों में सिर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, आंखों में दर्द, शरीर में दर्द व बुखार आना है। इसलिए बुखार आने पर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर डेंगू की जांच करवाएं क्योंकि सही समय पर इलाज न मिल पाना जानलेवा साबित हो सकता है। ऐसे में इसके निदान के लिए खून की जांच करवाएं। पुष्टि होने पर इसके लक्षणों के आधार पर डॉक्टर की सलाह पर उपचार करवाएं।

Continue Reading

Featured Post

Top News7 दिन पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News7 दिन पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 सप्ताह पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News3 सप्ताह पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News2 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market