Connect with us

Top News

स्पर्श गंगा के कार्यकर्ताओं ने वर्तिका जोशी का किया सम्मान

Published

on

ऋषिकेश, 10 जुलाई। स्पर्श गंगा अभियान के कार्यकर्ताओं ने नगर पालिका के स्वर्ण जयंती हाल में भारत की नौ सेना अधिकारी वर्तिका जोशी को एक समारोह के दौरान सम्मानित किया। मंगलवार को स्पर्श गंगा अभियान की संयोजक सरोज डिमरी की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम सम्मानित होने के बाद वर्तिका जोशी ने कहा कि आज गंगा का देश नहीं दुनिया में बड़ा नाम है, जिसे निर्मल व स्वच्छ बनाएं गाना सभी की जिम्मेदारी हैNo

। उन्होंने कहा कि ऐसे नहीं दुनिया में नदियों को विभिन्न नामों से जाना जाता है, लेकिन गंगा की पहचान एक मां के रूप मे । इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य वक्ता आरुषि पोखरियाल निशंक ने कहा कि वर्तिका जोशी ने 254 दिन में पूरे विश्व का भ्रमण कर महिलाओं का सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी उत्तराखंड की बछेंद्री पाल हो या हरियाणा की कल्पना चावला, जिन्होंने देश ही नहीं दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि मेजर निराला फिल्म का निर्माण भी इसी श्रंखला में किया जा रहा है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सरोज डिमरी ने कहा कि भारत की बेटियां किसी से कम नहीं हैं। हमारे देश की रक्षा मंत्री भी आज महिला ही है। इसी के साथ फौज में भी महिलाएं हर स्थान पर भारत का नाम उज्जवल कर रही हैं। उत्तराखंड में पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की बेटी बड़े अधिकारी के रूप में कार्यरत हैं। वही राज्य के मंत्री प्रकाश पंत की बेटी भी सेना में अधिकारी बन चुकी हैं। उन्होंने कहा कि आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ का नारा देकर भारतीय जनता पार्टी ने एक अच्छी पहल की है। इस दौरान वर्तिका जोशी के पिता पीके जोशी, पूर्व पालिकाध्यक्ष स्नेह लता शर्मा, पूर्व सभासद रीना शर्मा ,भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चे की जिला मंत्री सीमा शर्मा, गुड्डी कलूड़ा, भारतीय जनता पार्टी के नगर अध्यक्ष चेतन शर्मा, महामंत्री पंकज शर्मा, कोमल राजपूत ,गीता मित्तल, दुर्गा देवी,गीता मनचंदा ,मोनिका गर्गाा ,कल्पना चावला , जयंत शर्मा ,सहित काफी संख्या में महिलाएं भी उपस्थित थी।चौथा खंभा न्यूज़ .com / नसीब सैनी/अभिषेक मेहरा

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

व्यापारियों ने जलाई चीन निर्मित सामान की होली

-कैट ने केंद्र सरकार से की चीन से आयात पर कड़े प्रतिबंध लगाने की मांग

नई दिल्ली। जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने में चीन के अड़ंगे से नाराज व्यापारियों ने मंगलवार को पूरी दिल्ली में चीन निर्मित सामान की होली जलाई और चीन की वस्तुओं के बहिष्कार का संकल्प लिया। व्यापारियों के संगठन कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स(कैट) ने केंद्र सरकार से चीन से आयात पर कड़े प्रतिबंध लगाने की मांग की है।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि व्यापारी देश की अर्थव्यवस्था के चौकीदार हैं। उन्होंने कहा कि भारत में अब चीन के व्यापार को और अधिक पनपने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत की सुरक्षा के खिलाफ खड़े होने वालों का व्यापारी वर्ग बहिष्कार करेगा।
दिल्ली के व्यस्त बाजार और चीन निर्मित सामान के हब के रूप में विख्यात सदर बाजार के बारा टूटी चौक पर राजधानी के विभिन्न भागों के हजारों व्यापारियों, लघु उद्यमियों, हॉकर्स और उपभोक्ताओं ने चीन के बने सामान का एक टीला बनाकर उसकी होली जलाई।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी. भरतिया ने कहा कि पाकिस्तान समर्थन वाली चीन की करतूतों से देश के व्यापारी बेहद नाराज हैं। परोक्ष रूप से चीन भारत में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान की मदद करता है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि अब चीन को सबक सिखाने की बेहद जरूरत है और उसके लिए चीन से हो रहे व्यापार पर कुछ आर्थिक प्रतिबन्ध लगाने चाहिए। 
भरतिया ने कहा कि चीन से ज्यादातर सामान में खिलोने, त्योहारी वस्तुएं, इलेक्ट्रॉनिक्स, मोबाइल, हार्डवेयर, कुछ वस्तुओं का रॉ मैटेरियल, बिजली का सामान, दैनिक उपयोग की वस्तुएं आदि ज्यादातर आयात होती हैं, जिनमें बहुत अधिक तकनीक नहीं होती। सस्ता होने के कारण उपभोक्ता चीन का माल खरीदता है। यदि देश के घरेलू व्यापार को थोड़ा बढ़ावा और पैकेज दिया जाए तो हम चीन से अच्छा माल कम दाम पर बना सकते हैं। सरकार इसके लिए एक पैकेज की घोषणा करे जिससे देश के व्यापारी और उद्यमी चीनी माल का मुकाबला कर सकें।

कैट अध्यक्ष ने कहा कि चीन से आयात होने वाली वस्तुओं पर कम से कम 300 प्रतिशत से लेकर 500 प्रतिशत की कस्टम ड्यूटी लगा देनी चाहिए, जिससे चीन से आयात होने वाले सामान में कमी आए। वहीं भारतीय बंदरगाहों पर चीन से आने वाले प्रत्येक माल की कड़ी जांच हो और आयात हुए माल का सही मूल्य आंका जाए क्योंकि बड़ी मांत्रा में चीन से जो सामान आता है उसकी बिलिंग वास्तविक कीमत से काफी कम होती है। सरकार ऐसे माल माल को जब्त करे और फिर उस माल की खुली बोली लगाए। 

नसीब सैनी / अभिषेक मेहरा

Continue Reading

Top News

संपत्ति कर वसूली में तेजी लाएं

फरीदाबाद। नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त प्रदीप गोदारा ने मंगलवार को बकायेदारों से संपत्ति कर की वसूली और दीर्घकालीन बकायेदारों की यूनिटों को सील करने के संबंध में तीनों जोन के एनआईटी, ओल्ड फरीदाबाद और बल्लबगढ़ के क्षेत्रीय एवं कराधान अधिकारियों के साथ बैठक ली। गोदारा ने वर्तमान में जारी संपत्ति कर व ब्याज माफी योजना के तहत की जा रही रिकवरी और यूनिटें सील करने की भी समीक्षा की।

उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिए कि 10 लाख रुपये से ज्यादा बकायेदारों से कर वसूली के प्रयास तेज किए जाएं और उनसे बकाया संपत्ति सात दिन के अंदर वसूल की जाए। इसके बाद नगर निगम अधिनियम 1994 के तहत कार्रवाई की जाए। 

नसीब सैनी / अभिषेक मेहरा

Continue Reading

Top News

सीआरपीएफ ने मनाया 80 वां स्थापना दिवस

रांची। केद्रीय रिजर्व पुलिस बल(सीआरपीएफ) का 80 वां स्थापना दिवस समारोह मंगलवार को झारखंड में बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर रांची के ग्रुप केन्द्र में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सबसे पहले मुख्य अतिथि सीआरपीएफ के डीआईजी मनीष सच्चर ने क्वार्टर गार्ड पर सलामी ली और सीआरपीएफ के अमर शहीदों की शहादत को नमन करते हुए शहीद स्मारक जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी ।

इस अवसर पर उन्होंने वहाँ उपस्थित अधिकारियों और जवानो को इस पावन अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि वीर शहीदों की शहादत हमारे लिये प्रेरणास्त्रोत हैं, जो हमें हौसला एवं हिम्मत देती है। उन्होंने कहा कि हमारा बल विश्व का सबसे बड़ा अर्द्धसैनिक बल है और यह महान बल न केवल देश की आंतरिक सुरक्षा के प्रति सजग एवं सचेत है बल्कि सामाजिक सरोकार एवं मानवता के प्रति भी उतना ही प्रतिबद्ध है।

उन्होने बताया कि जहां एक तरफ झारखण्ड राज्य में तैनात सीआरपीएफ नक्सलियों का सामना कर उन्हे मुहॅतोड़ जबाव दे रही है वही दुसरी तरफ सामाजिक कार्यो को भी पूरी जिम्मेदारी के साथ निभा रही है। सीआरपीएफ द्वारा समय-समय पर रक्तदान शिविर का आयोजन कर पिछले वर्ष में लगभग 1500 यूनिट रक्तदान कर ब्लड बैंकों को सौंपा है। साथ ही पूरे राज्य में दुर्लभ रक्त समूह के कार्मिको को चिन्हित कर रखा है ताकि आवश्यकता पड़ने पर किसी जरूरतमंद को तत्काल प्रभाव से रक्त उपलब्ध कराया जा सके।

पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया जाता रहा है। सीआरपीएफ द्वारा झारखण्ड राज्य के सूदुर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कौशल विकास योजना के तहत सैकड़ों लोगों को प्रशिक्षण प्रदान करवाया गया जिससे आज वह एक अच्छे जीवन यापन के योग्य है। सीआरपीएफ की ओर से समय-समय पर सिविक एक्शन प्रोग्राम के माध्यम से सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में आवश्यक सामग्री एवं चिकित्सा सुविधा मुहैया कराया जा रहा है।

उन्होने बताया कि हमारे महान बल की गौरवमयी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए झारखण्ड सेक्टर, सीआरपीएफ की ओर से राज्य में नक्सलियों के विरूद्व निरंतर अभियान चला रही है। राज्य के विभिन्न भागों में फैले नक्सलवाद को जड़ से समाप्त करके कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने में सीआरपीएफ ने बड़ी अहम भूमिका निभाई है तथा भविष्य में भी अपने वीरतापूर्वक कार्यो से देश व राज्य की एकता एवं अखंडता को अक्षुण्ण रखने के लिए प्रयत्नशील रहेगी। उन्होंने बताया कि दो जुलाई 2010 को झारखंड के राजधानी रांची के धुर्वा में में सेक्टर कार्यालय की स्थापना की गई थी।

इसके अधीन वर्तमान में चार परिचालन रेंज कार्यालय, दो ग्रुप केन्द्र, बीस बटालियन, दो कोबरा बटालियन और एक द्रुत कार्य बल बटालियन तैनात है, जो मुख्य रूप से नक्सल विरोधी अभियान में कार्यरत है। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष राज्य में सीआरपीएफ के हाथों कई इनामी नक्सली मारे गए एवं कई नक्सलियो को गिरफ्तार किया गया है। सीआरपीएफ के सफल अभियान के मद्देनजर कई इनामी नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है एवं भारी मात्रा में हथियार, आईडी एवं विस्फोटक पदार्थ बरामद किया गया है।

झारखण्ड सेक्टर के अस्तित्व में आने के बाद सीआरपीएफ के जवानों को उनके अदम्य साहस और वीरता तथा सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। जिसमें शौर्य चक्र, राष्ट्रपति का पुलिस वीरता पदक, वीरता पदक, पराक्रम पदक, महानिदेशक का डिस्क एवं महानिदेशक तथा पुलिस महानिरीक्षक द्वारा प्रशंसा पत्र शामिल है। यह झारखंड राज्य में तैनात बल के अधिकारियों और जवानों की निष्ठापूर्ण देशसेवा एवं बहादुरीपूर्ण कार्यो को दर्शाता हैं। उन्होंने कहा

कि देश के प्रति अहम जिम्मेवारी जो हमें सौंपी गई है उसे हमारे बहादुर जवान बड़े हौसले, हिम्मत और तत्परता से निभा रहे हैं। हमारे बहादुर जवानों के अदम्य साहस और वीरता के कारण नक्सलियों को करारा जवाब दिया जा रहा है। जिससे नक्सलियों को अपना कदम पीछे लेने के लिए मजबुर होना पड़ रहा है। कार्यक्रम में सीआरपीएफ के डीआईजी दीपक बनर्जी, अमिय सरकार, कमांडेंट प्रभात संदवार, कमांडेंट कैलाश,कमांडेंट

नसीब सैनी / अभिषेक मेहरा

Continue Reading

Featured Post

NEWS2 दिन पूर्व

दसवीं की परीक्षा देने आई दो नाबालिग छात्राएं गायब,गांव धारण से रेवाड़ी आई थी परीक्षा देने

अचानक गायब हुई दोनों छात्ऱाओं में एक अनुसूचित जाति परिवार से जबकि दूसरी राजपूत परिवार से संबंध रखती है

Top News6 दिन पूर्व

यूएन में आतंकवादी मसूद अजहर के खिलाफ प्रस्ताव रद्द, चीन ने लगाई रोक

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव नहीं हो सका पारित भारतीय उपमहाद्वीप में शांति के लिए खतरा है जैश सरगना

Top News1 सप्ताह पूर्व

कैप्टन अभिमन्यु के घर आगजनी के मामले में सीबीआई अदालत में हुई सुनवाई

पंचकूला। जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर आगजनी के मामले में सोमवार को...

Top News2 सप्ताह पूर्व

अगस्ता मामला : बुधवार को दर्ज होगा राजीव सक्सेना का बयान

नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील मामले के आरोपित और दुबई की यूएचवाई नामक कंपनी के निदेशक राजीव सक्सेना का...

Top News2 सप्ताह पूर्व

13 को वैश्विक आतंकवादी घोषित हो सकता अजहर मसूद

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के बस पर आत्मघाती हमला करने वाले जैश-ए-मोहम्मद का...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market