Connect with us

Top News

एसपीजी सुरक्षा केवल प्रधानमंत्री तक सीमित रखने संबंधी विधेयक लोकसभा में पारित

—पहले की व्यवस्था के अनुसार, सोनिया गांधी उनके पुत्र राहुल गांधी और उनकी पुत्री प्रियंका गांधी को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई थी

Published

on

नई दिल्ली,(नसीब सैनी)।

देश की अतिविशिष्ट सुरक्षा सेवा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) का सुरक्षा कवच केवल प्रधानमंत्री और उनके परिवार के सदस्यों तक ही सीमित रखने संबंधी संशोधन विधेयक को लोकसभा में बुधवार को ध्वनिमत से पारित किया गया। सोनिया गांधी और उनके परिवार के सदस्यों को एसपीजी कवर हटाने का विरोध कर रहे कांग्रेस सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन किया।

एसपीजी एक्ट में संशोधन करने वाले इस विधेयक में प्रावधान है कि प्रधानमंत्री और उनके सरकारी आवास पर उनके साथ रहने वाले निकट पारिवारिक सदस्यों को ही यह सुरक्षा प्रदान की जाएगी। विधेयक में यह भी प्रावधान है कि कार्यमुक्त होने वाले प्रधानमंत्री और उन्हें आवंटित सरकारी आवास पर उनके साथ रहने वाले निकट पारिवारिक सदस्यों को अगले पांच वर्ष तक यह सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

पहले की व्यवस्था के अनुसार, सोनिया गांधी उनके पुत्र राहुल गांधी और उनकी पुत्री प्रियंका गांधी को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई थी। एसपीजी हटने के बाद अब यह लोग जेड प्लस सुरक्षा के घेरे में हैं।

कांग्रेस सदस्यों के तीव्र विरोध के बीच विधेयक पर हुई चर्चा का उत्तर देते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि सरकार ने किसी की सुरक्षा कम नहीं की है। वास्तव में सुरक्षा में इजाफा किया गया है। उन्होंने कांग्रेस सदस्यों से पूछा कि आखिर आपको एसपीजी सुरक्षा की जरूरत क्यों है। उन्होंने पूछा कि आपको देश के विशिष्ट व्यक्तियों की सुरक्षा की चिंता है या किसी एक परिवार की सुरक्षा की। उन्होंने कांग्रेस सदस्यों से यह भी पूछा कि जब पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह की सुरक्षा बदली गई तब कोई हल्ला नहीं किया गया।

शाह ने कहा कि इंटेलीजेंस ब्यूरो (आईबी) के निदेशक ने डॉ मनमोहन सिंह को बताया था कि सुरक्षा खतरे का आकलन करने के आधार पर आईबी का मानना है कि उन्हें और उनके परिवार के सदस्यों को अब एसपीजी सुरक्षा की आवश्यकता नहीं है। इस पर डॉ सिंह ने कहा था कि वह जैसा उचित समझें वैसा फैसला करें।

गृहमंत्री ने कहा कि सरकार सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को सुरक्षा प्रदान कर रही है लेकिन कोई भी राजनीतिक नेता यह अपेक्षा नहीं कर सकता कि उसे देश के प्रधानमंत्री जैसी सुरक्षा मुहैया कराई जाए।

कांग्रेस के बदले की भावना से काम करने के आरोप का खंडन करते हुए शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के संस्कार में ऐसी कोई बात नहीं है। वास्तव में कांग्रेस पार्टी ही बदले की भावना से काम करने में विश्वास रखती है। आपातकाल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने पूरे देश को जेलखाने में बदल दिया था।

गृहमंत्री ने कहा कि सोनिया गांधी के परिवार के सदस्यों ने एसपीजी द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों का बार-बार उल्लंघन किया। राहुल गांधी ने वर्ष 2015 के बाद एसपीजी को बिना बताए देश के अंदर 1892 बार और अन्य देशों में 247 बार यात्राएं कीं। करीब छह सौ बार एसपीजी द्वारा तय प्रोटोकॉल को नजरअंदाज किया गया। शाह ने आरोप लगाया कि पिछली सरकारों ने एसपीजी कानून में बदलाव एक परिवार की सुरक्षा को ध्यान में रखकर किया था, जबकि इस सरकार ने प्रधानमंत्री की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित किया है।

नसीब सैनी

Top News

नाबालिग बेटी से पिता ने किया एक माह तक दुष्कर्म, कोर्ट ने सुनाई उम्रकैद की सजा….

पिता को दोषी करार देते हुए पोक्सो एक्ट के अन्तर्गत आजीवन कारावास व 50 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई, जुर्माना न भरने की सूरत में 6 माह की अतिरिक्त कठोर कारावास की सजा भुगतनी होगी. 29 मई 2020 को आरोपी विजय कुमार को गिरफ्तार किया गया था.

Published

सांकेतिक फाइल फोटो

हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में रेप के एक मामले में कोर्ट ने दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई है. साथ ही 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है. अतिरिक्त जिला एवं सैशन न्यायाधीश मनीष दुआ की अदालत ने ये सजा सुनाई है. पोक्सो एक्ट के तहत दोषी को आजीवन कारावास व 50 हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई है. जिला उप न्यायावादी भुपेन्द्र कुमार ने बताया कि 28 मई 2020 को थाना सदर थानेसर के एरिया के अन्तर्गत रहने वाली एक महिला ने पुलिस को बताया कि उसने विजय को अपने मकान का एक कमरा किराये पर दिया हुआ था.

विजय की तीन लड़की व एक लड़का है….
महिला ने बताया कि 26 मई 2020 को विजय की 15 साल की बड़ी बेटी रोते हुए उसके पास आई और बताया कि उसका पिता करीब एक माह से उसके साथ गलत काम कर रहा है. शिकायत पर थाना सदर थानेसर में 6 पोक्सो एक्ट, 376 (3) आईपीसी व 75 जेजे एक्ट के तहत मामला दर्ज करके जांच महिला सहायक उप निरीक्षक सुमन देवी को सौंपी गई.

29 मई 2020 को आरोपी विजय कुमार को गिरफ्तार कर लिया. मामले की नियमित सुनवाई फास्ट ट्रैक स्पैशल कोर्ट में करते हुए अतिरिक्त जिला एवं सेशन न्यायाधीश मनीष दुआ की अदालत ने आरोपी विजय कुमार को दोषी करार देते हुए पोक्सो एक्ट के अन्तर्गत आजीवन कारावास व 50 हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई, जुर्माना न भरने की सूरत में 6 माह की अतिरिक्त कठोर कारावास की सजा भुगतनी होगी.

5 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या केस में फांसी की सजा
वहीं हरियाणा के झज्जर में 5 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या करने के दोषी को सोमवार को फांसी की सजा सुनाई गई. वारदात के 11 महीने बाद फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सुनवाई पूरी करते हुए दोषी विनोद उर्फ मुन्ना को सजा सुनाई. इसके अलावा कोर्ट ने प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल अफेंसेस (पॉक्सो ) एक्ट 2012 की धारा 6 के तहत दोषी को उम्रकैद और 1 लाख 85 हजार रुपए का जुर्माना भी किया.

Continue Reading

Top News

चार बच्चों के पिता ने जहर निगल जान दी: नाराज पत्नी को लेने गया था ससुराल, ससुरालवालों के बेइज्जत कर घर से निकालने पर था आहत…

बीरू अपनी नाराज पत्नी नूरी को लेने फतेहाबाद के तलवाड़ा गांव में अपनी ससुराल गया था। वहां पर बीरू के ससुरालवालों ने बेइज्जत कर धक्के मारकर घर से निकाल दिया। बेइज्जती से आहत होकर घर आकर बीरू ने जहर निगल लिया।

Published

मृतक बीरु की फाइल फोटो

बरवाला के खेड़ी बर्की निवासी बीरू (40) ने जहर निगल कर जान दे दी। मौत से एक दिन पहले बीरू अपनी नाराज पत्नी नूरी को लेने फतेहाबाद के तलवाड़ा गांव में अपनी ससुराल गया था। वहां पर बीरू के ससुरालवालों ने बेइज्जत कर धक्के मारकर घर से निकाल दिया। बेइज्जती से आहत होकर घर आकर बीरू ने जहर निगल लिया। बीरू को इलाज के लिए अग्रोहा मेडिकल में भर्ती करवाया गया।

सोमवार देर शाम बीरू की मौत हो गई। बीरू के चार बच्चे हैं, इनमें बडे़ की उम्र 10 साल है। मृतक बीरू खेतों में रखवाली का काम करता था। पुलिस ने इस मामले में बीरू के भाई रामअवतार की शिकायत पर पत्नी नूरी, ससुर महाबीर और सास कृष्णा के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

रामअवतार ने बताया कि उसके भाई बीरू और लीलाराम की शादी तलवाड़ा वासी नूरी व बंधना के साथ हुई थी। शादी के बाद अक्सर उसके भाई बीरू की पत्नी नूरी नाराज होकर अपने मायके चली जाती थी। इस बारे में कई बार पंचायत भी हुई थी। अब दोबारा से छह माह पहले ही नूरी फिर से अपने मायके चली गई थी। उसका भाई बीरू अपनी पत्नी नूरी को लेने ससुराल गया था। वहां से आने के बाद उसने घर आकर जहर खाकर जान दे दी। पुलिस मंगलवार को मृतक बीरू का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंपेगी।

Continue Reading

Top News

एक बाइक पर 6 युवक सवार होकर मार रहे थे तफरी, पुलिस ने बनाया मुर्गा

फ़तेहाबाद जिले के रतिया बस स्टैंड पर एक बाइक पर तफरी मार रहे 6 युवकों को दुर्गा शक्ति टीम ने पकड़ लिया और उनको मुर्गा बनाकर माफी मंगवाई. हालांकि युवकों द्वारा माफी मांगे जाने पर पुलिस ने उनको छोड़ दिया.

Published

पुलिस ने युवकों को पकड़ कर बनाया मुर्गा

हरियाणा के फ़तेहाबाद जिले के रतिया बस स्टैंड पर एक बाइक पर तफरी मार रहे 6 युवकों को दुर्गा शक्ति टीम ने पकड़ लिया और उनको मुर्गा बनाकर माफी मंगवाई. हालांकि युवकों द्वारा माफी मांगे जाने पर पुलिस ने उनको छोड़ दिया. युवकों के मुर्गा बनने की वीडियो सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो रही है. वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि एक ही बाइक पर 6 युवक खतरनाक तरीके से सफर कर रहे हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रतिया बस स्टैंड पर सुबह व दोपहर को अनेक छात्राएं स्कूल जाने व घर आने के लिए एकत्रित होती हैं. ऐसे में बस स्टैंड पर अनेक युवक भी आते हैं और छेड़छाड़ की घटनाएं होती हैं. इस मामले में बस स्टैंड इंचार्ज हरबंस सिंह ने रतिया थाना प्रभारी को शिकायत देकर ऐसे युवकों पर कार्रवाई की मांग की थी.

बस स्टैंड इंचार्ज की शिकायत के बाद बस स्टैंड पर रतिया थाना प्रभारी ने सुबह 8 से 10 व दोपहर 12 से 3 बजे तक यहां पर दुर्गा शक्ति की गाड़ी को नियुक्त किया है. इस दौरान जब एक ही बाइक पर जान को खतरे में डालकर बस स्टैंड पहुंचे 6 युवक आए तो दुर्गा शक्ति के कर्मचारियों ने उनको पकड़ लिया. पुलिस ने सरेराह इन युवकों को नैतिक सजा दी. पुलिस ने बस स्टैंड परिसर में सभी 6 युवकों को मुर्गा बनाया.

वहीं पुलिस ने इन युवकों को भविष्य में ऐसी गलती दोबारा न दोहराने की हिदायत भी दी. दुर्गा शक्ति वाहन इंचार्ज रामेश्वर ने बताया कि यह युवक जान जोखिम में डालकर बाइक पर सवार थे. यह युवक खुद की मुर्गा बनकर अपनी गलती मानते रहे. नैतिकता के आधार पर उनको सजा दी गई है. उनकी ड्यूटी यहां पर महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा के लिए है और इसके लिए ही वह यहां पर ड्यूटी दे रहे हैं. इन युवकों ने अपनी गलती मानते हुए स्वयं की मुर्गा बनकर गलती मानी. इसके बाद उनको चेतावनी देकर छोड़ दिया गया.

Continue Reading

Featured Post

Top News1 महीना पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News1 महीना पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 महीना पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News2 महीना पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News3 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market