Connect with us

Top News

जैव विविधता मानव जीवन का आधार, इसी पर टिकी है सृष्टि : संभागायुक्त ओझा

Published

on

उज्जैन । जैव विविधता मानव जीवन का आधार है। इसी पर सृष्टि टिकी हुई है। यह एक चक्र है। पुरानी चीजें समाप्त होती हैं और नई चीजें बनती हैं। आज जैव विविधता पर बहुत ही उपयोगी कार्यशाला आयोजित की गई है। इसके निष्कर्षों को संभाग के सभी अधिकारी अपने-अपने जिलों की टीएल में अन्य अधिकारियों को बतायें। जैव विविधता के संरक्षण के लिये क्या करना चाहिये, क्या नहीं करना चाहिये, इस पर आम बोलचाल की भाषा में एक नोट बनाया जाना चाहिये, जिससे आम आदमी जैव विविधता के जटिल प्रश्नों को समझ सके। उक्‍त बातें संभागायुक्त एमबी ओझा ने सोमवार को जैव विविधता पर आयोजित कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कही। उन्होंने सरल भाषा में जैव विविधता के संरक्षण के लिये किये जाने वाले कामों पर साहित्य छपवाकर प्रचार-प्रसार करने की आवश्यकता पर बल दिया।

मप्र राज्य जैव विविधता बोर्ड के सदस्य सचिव आर.निवास मूर्ति ने कहा कि मप्र जैव विविधता रणनीति एवं कार्य योजना हेतु यह कार्यशाला आयोजित की गई है। जैव विविधता के संरक्षण के लिये वन विभाग, किसान कल्याण विभाग, पशुपालन विभाग, मत्स्य पालन विभाग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा संयुक्त रूप से प्राकृतिक आवासों को नुकसान पहुंचाने वाले कारकों की पहचान की जायेगी एवं इनको नुकसान से बचाने के लिये रणनीति एवं गतिविधियां तय की जायेंगी। कृषि की पारम्परिक एवं देशी किस्में जो कि लुप्त होने की कगार पर हैं, इनके संरक्षण के लिये समन्वित प्रयास किये जायेंगे। निवास मूर्ति द्वारा पॉवर पाइन्ट प्रजेंटेशन के माध्यम से भी मप्र जैव विविधता रणनीति व कार्य योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।

भोपाल से आये पर्यावरणविद श्याम बोहरे ने कहा कि मध्य प्रदेश की जैव विविधता आधे से ज्यादा देश को प्रभावित कर सकती है। प्रदेश की नदियां देश की बड़ी जनसंख्या की प्यास बुझाती है। उन्होंने कहा कि हम सदैव फायर फाइटिंग की मुद्रा में काम करते हैं। शान्ति से बैठकर भविष्य में होने वाले दूरगामी परिणामों पर नजर रखना होगी। उन्होंने कहा कि अब वक्त आ गया है कि यह सोचा जाये कि हम अपने बच्चों के लिये विरासत में क्या छोड़कर जा रहे हैं। क्या हम दावे के साथ कह सकते हैं कि आज से 50 वर्षों के बाद “मालव धरती गहन गंभीर, डग-डग रोटी पग-पग नीर” की कहावत को चरितार्थ करती रहेगी। यह सब निर्भर करेगा हमारी जैव विविधता के संरक्षण पर। बोहरे ने कहा कि व्यक्तिगत रूप से हम बेहतर काम कर सकते हैं किन्तु क्या कारण है कि समूह के रूप में अच्छा परिणाम नहीं मिलता है। इस पर भी चिन्तन करना आवश्यक है।

मुख्य वन संरक्षक अन्नागिरि ने कहा कि पृथ्वी सभी मनुष्यों की जरूरत पूरी करने के लिये पर्याप्त संसाधन प्रदान करती है, लेकिन मनुष्य के लालच का अन्त नहीं है। जनमानस में जैव विविधता के संरक्षण के लिये जागरूकता उत्पन्न करना आवश्यक है। मुख्य वन संरक्षक ने सुझाव दिया कि प्रतिवर्ष मनाये जाने वाले जैव विविधता दिवस पर 4-5 दिन का वृहद कार्यक्रम आयोजित किया जाना चाहिये, जिससे आमजन में जैव विविधता के बारे में जागरूकता फैले।

विषय विशेषज्ञ एसके बिल्लौरे ने कहा कि मध्य प्रदेश के प्रत्येक जिले में जैव विविधता के संरक्षण के प्रचार-प्रसार के लिये एक मिनीएचर पार्क विकसित करना चाहिये। इसमें विकसित होने वाले फ्लोरा एवं फोना से आमजन परिचित होंगे तथा वाइल्ड लाइफ के प्रति भी लोगों का आकर्षण बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि धरती से यदि इंसेक्ट्स खत्म होते हैं तो मानव का अस्तित्व भी समाप्त हो जायेगा। बिल्लौरे ने पॉवर पाइन्ट के माध्यम से ऑस्ट्रेलिया, डेनमार्क आदि के उदाहरण देते हुए प्रदेश की जैव विविधता के संरक्षण के उपाय बताये।

पंकजा सोनवलकर ने अपने सम्बोधन में कहा कि पर्यावरण को संस्कृति से जोड़ना चाहिये। अलग-अलग स्तर पर पाठ्यक्रमों में जैव विविधता संरक्षण के लिये भी पाठ होना चाहिये, जिससे विद्यार्थियों में बहुत छोटी उम्र से ही पर्यावरण के प्रति चेतना जागृत की जा सके। उन्होंने कहा कि जैव विविधता के मूल्यों की प्रतिस्थापना के लिये नीति निर्माण करने वालों को भी जैव विविधता पर काम करना होगा। कार्यशाला में पक्षी विशेषज्ञ शेखत चन्दा ने उज्जैन जिले के विभिन्न पक्षियों के बारे में रोचक जानकारी प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि पृथ्वी पर 10 हजार से अधिक पक्षियों की प्रजाति निवास करती है। इसमें से लगभग 350 प्रजातियां उज्जैन जिले में पाई जाती हैं। मालवा से विलुप्त हो रहे गिद्ध पुन: गांधी सागर क्षेत्र में देखे जाने लगे हैं। बताया गया कि स्वयं उन्होंने 180 गिद्धों की गणना एक समय में की है।
कार्यशाला में बताया गया कि जैव विविधता प्रकृति की जैविक सम्पदा और समृद्धि का सम्पूर्ण स्वरूप है, जिसमें बड़े से बड़े और छोटे से छोटे, यहां तक कि आंखों से न दिखने वाले जीवाणु भी शामिल हैं। जैव विविधता के 3 स्तर हैं प्रथम आनुवांशिक जैव विविधता। इसमें गुणसूत्रों की भिन्नता प्रजाति के भीतर विविधता को जन्म देती है। द्वितीय प्रजातीय जैव विविधता है। किसी स्थान पर पाई जाने वाली प्रजातियों की विविधता को इसमें शामिल किया जाता है। इसी तरह तीसरी पारिस्थितिक जैव विविधता प्रकृति में पारिस्थितिकीय तंत्रों की विविधता है। जंगल, घांस के मैदान, नदियां, पहाड़ आदि इसके अन्तर्गत शामिल किये जाते हैं।

कार्यशाला का संचालन संयुक्त आयुक्त प्रतीक सोनवलकर एवं डॉ.एसके वास्तव ने किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ संदीप जीआर, उज्जैन संभाग के कृषि, उद्यानिकी, पशु चिकित्सा विभाग के संभागीय एवं जिला अधिकारी, विभिन्न क्षेत्रों से आये उन्नत कृषक, संभाग की विभिन्न जिला पंचायतों के परियोजना अधिकारी मौजूद थे।

नसीब सैनी/ अभिषेक मैहरा

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

कोलगेट पाऊडर के नाम पर नशा तस्करी: 276 किलो चूरा-डोडा पोस्त के साथ तस्कर गिरफ्तार, राजस्थान से पंजाब जाना था चूरा पोस्त

हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है।

Published

पुलिस की गिरफ्त में नशा तस्कर।

नशा तस्करी पर रोक के मामले में हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है। आरोपी सुंदर सिंह 11 कट्‌टों में यह नशीला पदार्थ भरकर राजस्थान के चितौड़गढ़ से पंजाब के गोविंदगढ़ लेकर जा रहा था।

गिरफ्तार आरोपी सुंदर सिंह

ट्रक से बरामद डोडा और चूरा पोस्त के कट्‌टों के ऊपर कोलगेट पाऊडर लिखा था। बरामद नशीले पदार्थ में से 200 किलो चूरा पोस्त और करीब 76 किलो डोडा पोस्त है। पुलिस एसआई सतबीर सिंह के अनुसार आरोपी सुंदर सिंह को सिरसा हाईवे पर आर्यनगर के पास चेकिंग के लिए रुकवाया था। तलाशी के दौरान ट्रक से 11 कट्‌टे नशीला पदार्थ बरामद हुआ। आरोपी को कोर्ट में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया है।

Continue Reading

Top News

पलवल में पुलिस के सायरन के बाद मशीन छोड़ कर फरार हुए बदमाश

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

Published

ATM में कैश को चैक करते कंपनी कर्मचारी।

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। इसमें 30 लाख रुपए थे। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

पलवल के कैंप थाना प्रभारी कैलाशचंद ने बताया कि रात को लुटेरों ने किठवाड़ी रेलवे ओवर ब्रिज के निकट हिटाची कंपनी के एटीएम को काट लिया था। इसी बीच थाने की पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मी पवन कुमार, हवलदार संदीप और एसपीओ विनय रात्रि गश्त पर निकले। गाड़ी का सायरन बजाते हुए वे रेलवे रोड की तरफ से किठवाड़ी चौक के अलीगढ़ रोड पर रेलवे ओवर ब्रिज के पास पहुंचे तो वहां एटीएम के गेट पर मशीन पड़ी थी।

हिताची कंपनी के एटीएम को बदमाशों ने काट लिया था। पुलिस के आ जाने से वे उसे ले जा नहीं पाए।सूचना के बाद कंपनी के कर्मचारी ने मौके पर पहुंचकर एटीएम मशीन को खोलकर चैक किया तो उसमें 30 लाख रुपए का कैश सही सलामत मिला। ईएचसी पवन कुमार ने बताया कि लुटेरे पुलिस की पीसीआर का सायरन सुनकर मौके पर ही मशीन को छोडक़र फरार हो गए।

सीसीटीवी के कैमरे तोड़े

एटीएम बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरों में जब जांच की गई तो उसमें रात के करीब डेढ़ बजे एक नकाबपोश अंदर आता है और फिर लोहे की रॉड से अंदर लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ देता है।

Continue Reading

Top News

पहाड़ों पर बर्फ और मैदानों में बारिश से बढ़ेगा ठंड का प्रकोप, स्मॉग से भी मिल सकती है राहत

विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

Published

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

पंजाब, हरियाणा और हिमाचल में अगले दो दिन में मौसम में बड़े बदलाव का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान मौसम में बदलाव लेकर आएगा। विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

मैदानी इलाकों में छाये स्मॉग के कारण लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। पिछले दो दिन स्मॉग के कारण ज्याद परेशानी रही, लोग सूरज के भी दर्शन नहीं कर पाए। हालांकि शुक्रवार को कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी का असर भी दिखा और सूरज भी निकला। आसमान में कोहरा सा छाया हुआ है। बढ़ रहे वायु प्रदूषण ने लोगों का जीना बेहाल कर दिया है।

हिमाचल के मौसम का असर : बढ़ेगा सर्दी का सितम

हिमाचल प्रदेश लाहौल एवं स्पिति में पिछले तीन दिन से बर्फबारी का दौर शुरू होने से मौसम ने करवट ली है। पहाड़ों पर बर्फबारी से लोगों की चिंता और बढ़ रही है। एक-दो दिन में मौसम विभाग प्रदेशभर में हल्की बारिश की संभावना जताई है। ऐसे में बारिश और बर्फ गिरने से सप्ताह भर में ठंड और बढ़ जाएगी। मौसम विभाग ने 6 दिसंबर तक बारिश की भविष्यवाणी की है। लोग अभी भी गर्म कपड़ों में ही घरों से निकल रहे हैं। ऐसे में बारिश होती है तो सर्दी का सितम बढ़ेगा और स्मॉग से भी राहत मिलेगी।

पंजाब में प्रदूषण का स्तर 221 AQI

पंजाब में गुरुवार का दिन ठंडा रहा और आसमान में बादल छाए रहने से कई जिलों में सूरज देवता के दर्शन नहीं हुए। मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि अगले सप्ताह तक ऐसी ही स्थिति रह सकती है। पंजाब के शहरों की बात करें तो शनिवार को हवा में प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है। बड़े शहरों में हवा में प्रदूषण का स्तर 221 AQI से ज्यादा है। हवा में प्रदूषण का यह स्तर स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है।

पंजाब के बड़े शहर अमृतसर में 25 नवंबर को 25 डिग्री सेल्सियस अधिकतम और 10 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान था। वहीं 30 नवंबर को अधिकतम 24 और 8 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं जालंधर में 30 नवंबर को अधिकतम 23.8 और 7.7 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

हरियाणा में हल्की बारिश का पूर्वानुमान

हिमाचल में बदल रहे मौसम का असर हरियाणा में भी अपना प्रभाव दिखाएगा। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में हरियाणा के कुछ जिलों में हल्की बरसात का पूर्वानुमान लगाया है। हिसार, भिवानी, झज्जर, पलवल, फरीदाबाद गुरुग्राम आदि में शाम तक 5 एमएम बारिश की उम्मीद है। जीटी बेल्ट में मौसम को लेकर कोई अलर्ट फिलहाल नहीं है। ऐसे में यहां स्मॉग से भी अभी मुक्ति संभव नहीं है। पानीपत में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के अनुसार पिछले दो दिन से तापमान में 1 डिग्री तक गिरावट हो रही है। अधिकतम तापमान में ज्यादा गिरावट न आने से फिलहाल सर्दी से कुछ राहत है।

सूखी ठंड और स्मॉग से बढ़ रहे खांसी-जुकाम के मरीज

मैदानी इलाकों में सूखी ठंड और आसमान में छाया मौसम लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं। इससे खांसी और जुकाम के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। बड़े बुजुर्ग और बच्चे इससे खासतौर पर परेशान हो रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक बारिश के बाद ही इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। बारिश होने से जहां स्मॉग खत्म हो जाएगा वहीं मौसमी बीमारियों पर भी अंकुश लगेगा।

6 दिसंबर तक मौसम का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान एकाएक मौसम में बदलाव लेकर आएगा। इससे मैदानी इलाकों में 6 दिसंबर तक बारिश होगी। हिमाचल में पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और अन्य जगह बारिश होने का पूर्वानुमान है। वहीं हरियाणा और पंजाब में भी दो दिन हल्की बारिश हो सकती है।

Continue Reading

Featured Post

Top News1 महीना पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News1 महीना पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 महीना पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News2 महीना पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News3 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market