Connect with us

Top News

लखनऊ गेस्ट हाउस कांड का केस वापस, खत्म हुई सपा-बसपा की सियासी दुश्मनी

—दो जून 1995 को हुआ था स्टेट गेस्ट हाउस कांड

Published

on

लखनऊ,(नसीब सैनी)।

लोकसभा चुनाव खत्म होते ही अखिलेश यादव और मायावती के बीच भले ही सियासी गठबंधन ख़त्म हो गया हो लेकिन इस बीच दो राजनीतिक दुश्मनों में इस कदर नजदीकियां बढ़ीं कि  मायावती ने मुलायम सिंह यादव के खिलाफ चल रहे गेस्ट हाउस केस को वापस लेने की अर्जी दे दी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए गेस्ट हाउस केस को दोनों पक्ष की सहमति पर खत्म कर दिया। 

पिछले लोकसभा चुनाव के समय बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्रा की देखरेख में बसपा एवं सपा के गठबंधन की नींव रखी गयी थी। इसमें सतीश चन्द्र मिश्रा के एक रिश्तेदार अधिवक्ता ने भी भूमिका निभाई। चुनाव के दौरान आपसी सहमति से सीटों का बंटवारा हुआ और दोनों दलों ने एक-दूसरे की सीटों पर जाकर चुनाव प्रचार भी किया। मायावती अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदी मुलायम सिंह की मैनपुरी सीट पर चुनाव प्रचार करने गईं और लखनऊ के स्टेट गेस्ट हाउस कांड के बाद पहली बार दोनों नेता एक साथ मंच पर नजर आये। लोकसभा चुनाव में बसपा को 10 सीटें और सपा को पांच सीटें मिलने के बाद गठबंधन टूट गया और दोनों पार्टियां अलग-अलग राजनीतिक मुद्दों पर चलने को आजाद हो गईं। इसके बाद प्रदेश की 11 सीटों पर हुए विधानसभा उपचुनाव सपा और बसपा ने अलग-अलग लड़े। इसमें सपा को तीन सीटें मिलीं लेकिन बसपा खाता भी नहीं खोल सकी। यह अलग बात है कि दोनों दल लोकसभा चुनाव खत्म होते ही अलग हो गए लेकिन इसी बीच दोनों दलों के बीच बढ़ीं नजदीकियों ने एक-दूसरे के खिलाफ सियासी दुश्मनी भूल जाने की नींव डाल दी। 

इसी का नतीजा रहा कि सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ चल रहे गेस्ट हाउस केस को समाप्त करने के लिए समाजवादी पार्टी की तरफ से पेशकश की गयी। इसी के बाद 26 फरवरी 2019 को सुप्रीम कोर्ट में न्यायाधीशों एनवी रमना, इंद्रा बनर्जी एवं हेमंत गुप्ता की पीठ के समक्ष मायावती के अधिवक्ताओं ने 24 वर्ष पुराने गेस्ट हाउस केस को वापस लेने की अर्जी लगा दी। हालांकि बसपा का लोकसभा चुनाव के बाद सपा से गठबंधन टूट गया और दोनों पार्टियां अलग-अलग राजनीतिक मुद्दों पर चलने को आजाद हो गईं लेकिन इस बीच गेस्ट हाउस केस खत्म करने की अर्जी काम कर चुकी थी।

दो जून 1995 को हुआ था स्टेट गेस्ट हाउस कांड मुलायम सिंह यादव ने 1992 में समाजवादी पार्टी का गठन किया था। 1993 में हुए विधानसभा चुनाव में सपा-बसपा का गठबंधन हुआ। उस समय बसपा की कमान कांशीराम के पास थी। इस चुनाव में सपा 256 और बसपा 164 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ी। सपा को 109, बसपा को 67 सीटें मिलीं। इस बीच 1995 में सपा-बसपा के रिश्ते खराब हो गए। 1993 में मुलायम सिंह के मुख्यमंत्री बनने के बाद बसपा और भाजपा के बीच नजदीकियां बढ़ने लगी थीं। इसलिए सपा को अंदेशा था कि बसपा कभी भी सरकार से समर्थन वापस ले सकती है। ऐसे में 2 जून 1995 को मायावती जब अपने विधायकों के साथ स्टेट गेस्ट हाउस में बैठक कर रही तो इसकी जानकारी जब सपा के लोगों को हुई तो उसके कई समर्थक वहां पहुंच गए।

सपा समर्थकों ने वहां जमकर हंगामा किया। बसपा विधायकों से मारपीट तक की गई। मायावती ने इस पूरे ड्रामे को अपनी हत्या की साजिश बताया और मुलायम सरकार से समर्थन वापस ले लिया। भाजपा ने बसपा को समर्थन देने का पत्र राज्यपाल को सौंप दिया। अगले ही दिन मायावती राज्य की पहली दलित मुख्यमंत्री बन गईं। इसी समय 2 जून 1995 को गेस्ट हाउस कांड के बाद गठबंधन टूट गया।

उत्तर प्रदेश की राजनीति में दो जून 1995 का दिन स्टेट गेस्ट हाउस कांड के रूप में याद किया जाता है। मायावती पर हमले के विरोध में मुलायम सिंह यादव, शिवपाल सिंह यादव, सपा के वरिष्ठ नेता धनीराम वर्मा, मोहम्मद आजम खां, बेनी प्रसाद वर्मा समेत कई नेताओं के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में तीन मुकदमे दर्ज किए गए थे।

नसीब सैनी

Top News

गोवा में मिग -29के विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलट सुरक्षित

—दोनों पायलट सुरक्षित बाहर निकालने में कामयाब रहे
—दुर्घटना में शामिल विमान फाइटर जेट का ट्रेनर संस्करण था

Published

पणजी,(नसीब सैनी)।

गोवा में शनिवार को आईएनएस हंसा से प्रशिक्षण मिशन के तहत उड़ान भरने के तुरंत बाद भारतीय नौसेना का एक मिग-29के ट्रेनर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। यह दुर्घटना डाबोलिम में हुई। हालांकि दोनों पायलट सुरक्षित बाहर निकलने में कामयाब रहे। दुर्घटना में शामिल विमान फाइटर जेट का ट्रेनर संस्करण था।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि ट्रेनर विमान के इंजन में आग लग गई। डाबोलिम में एक प्रशिक्षण मिशन के दौरान आईएनएस हंसा से उड़ान भरने के तुरंत बाद इस मिग 29के ट्रेनर विमान के इंजन में आग लग गई। विमान के दोनों पायलट कैप्टन एम. श्योखंड और लेफ्टिनेंट कमांडर दीपक यादव सुरक्षित बाहर निकलने में कामयाब रहे।

विमान का मलबा जिस इलाके में फैला हुआ है, वह पठारी और खुला इलाका है। फिलहाल प्रशासन ने इलाके को खाली करा लिया है। विस्तृत व्योरे की प्रतीक्षा है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

आरकॉम को जुलाई-सितम्बर तिमाही में 30,412 करोड़ रुपये का घाटा

—उल्लेखनीय है कि आरकॉम और उसकी सब्सिडरी कंपनियों ने 1,210 करोड़ रुपये के ब्याज और 458 करोड़ रुपये के विदेशी विनिमय उतार-चढ़ाव के लिए प्रावधान नहीं किया है

Published

नई दिल्ली दिल्‍ली/मुंबई,(नसीब सैनी)।

एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया के बाद कर्ज के बोझ तले दबे रिलायंस कम्‍युनिकेशंस (आरकॉम) को जुलाई-सितम्बर की तिमाही में 30,142 करोड़ रुपये का एकीकृत घाटा हुआ है। सुप्रीम कोर्ट के सांविधिक बकाया पर फैसले के मद्देनजर देनदारियों के लिए प्रावधान की वजह से कंपनी का घाटा इतना बढ़ा है। दिवाला प्रक्रिया में चल रही कंपनी ने इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1,141 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया था। 

सुप्रीम कोर्ट के दूरसंचार कंपनियों के सालाना समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) की गणना पर फैसले के मद्देनजर कंपनी ने 28,314 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। आरकॉम की कुल देनदारियों में 23,327 करोड़ रुपये का लाइसेंस शुल्क और 4,987 करोड़ रुपये का स्पेक्ट्रम इस्तेमाल शुल्क शामिल है। 

उल्लेखनीय है कि आरकॉम और उसकी सब्सिडरी कंपनियों ने 1,210 करोड़ रुपये के ब्याज और 458 करोड़ रुपये के विदेशी विनिमय उतार-चढ़ाव के लिए प्रावधान नहीं किया है। आरकॉम ने बयान में कहा कि यदि इसके लिए प्रावधान किया जाता तो उसका नुकसान 1,668 करोड़ रुपये और बढ़ जाता। इसके अलावा जुलाई-सितम्बर तिमाही के दौरान कंपनी की परिचालन आय घटकर 302 करोड़ रुपये रह गई है। यह पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 977 करोड़ रुपये थी।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

दिल्ली : वायु गुणवत्ता में सुधार, सुबह के समय 412 रहा एक्यूआई स्तर

—उल्लेखनीय है कि 201 और 300 के बीच एक एक्यूआई को खराब, 301-400 को ‘बहुत खराब’ और 401-500 को ‘गंभीर’ माना जाता है

Published

नई दिल्ली,(नसीब सैनी)

राष्ट्रीय राजधानी सहित उसके सटे शहरों में शनिवार सुबह प्रदूषण के स्तर में गिरावट देखी गई। हालांकि इसे वाबजूद शहर में हवा की गुणवत्ता “गंभीर” श्रेणी में बनी हुई है। 

दिल्ली में शनिवार सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 412 दर्ज किया गया। फरीदाबाद में एक्यूआई 427, गाजियाबाद 424, गुड़गांव 420, नोएडा 411 और ग्रेटर नोएडा में 377 रहा। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर में आज मौसम साफ रहेगा। अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। तेज हवाओं के चलने की भी संभावना जताई गई है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 777 दर्ज किया गया था, जबकि शाम चार बजे यह 463 रहा था। वहीं द्वारका सेक्टर-8 एक्यूआई 495 के साथ सबसे प्रदूषित क्षेत्र था।

उल्लेखनीय है कि 201 और 300 के बीच एक एक्यूआई को खराब, 301-400 को ‘बहुत खराब’ और 401-500 को ‘गंभीर’ माना जाता है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News2 दिन पूर्व

अंग्रेजी मीडियम कल्चर में फिट नहीं हो पा रही थी छात्रा, की खुदकुशी

---पुलिस ने बताया कि रात को उसने दोस्तों के साथ पिकनिक किया था जिसके बाद ही फांसी लगाई है

Top News2 दिन पूर्व

लॉस एंजेल्स में गोलीबारी करने वाला छात्र एशियाई

---पुलिस रिकार्ड के अनुसार उसके पिता और उसकी मां के बी 2015 में झगड़ा हुआ था। इसके बाद उसके पिता...

Top News3 दिन पूर्व

दिल्ली : तीस हजारी कोर्ट में गोली चलाने वाले पुलिस जवानों की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक

---तीस हजारी कोर्ट में वकील पर गोली चलाने के आरोपित एएसआई पवन कुमार और एक अन्य पुलिसकर्मी ने दिल्ली हाई...

Top News3 दिन पूर्व

लॉस एंजेलिस के स्कूल में गोलीबारी, बच्ची की मौत

---हमलावर बच्चे को हेलीकॉप्टर की मदद से पकड़ा गया

Top News6 दिन पूर्व

पंजाब: लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

---साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर ---जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market