Connect with us

Top News

भाई-बहन में प्रेम भाव बढ़ाता है भैया दूज

–बताया जाता है कि भगवान सूर्यदेव की पत्नी छाया की कोख से यमराज और यमुना का जन्म हुआ था

Published

on
योगेश कुमार गोयल

(भैया दूज, 29 अक्टूबर पर विशेष)

भाई-बहन के दिलों में पावन संबंधों की मजबूती और प्रेमभाव स्थापित करने वाला पर्व है भैया दूज। इस दिन बहनें अपने भाईयों को तिलक लगाकर ईश्वर से उनकी दीर्घायु की कामना करती हैं। कहा जाता है कि इससे भाई यमराज के प्रकोप से बचे रहते हैं। दीपावली के दो दिन बाद अर्थात कार्तिक शुक्ल द्वितीया को मनाए जाने वाले इस पर्व को ‘यम द्वितीया’ व ‘भ्रातृ द्वितीया’ के नाम से भी जाना जाता है। बहुत से भाई-बहन सौभाग्य तथा आयुष्य की प्राप्ति के लिए इस दिन यमुना अथवा अन्य पवित्र नदियों में साथ-साथ स्नान भी करते हैं। भैया दूज मनाने के संबंध में कई किवंदतियां प्रचलित हैं। एक कथा यमराज और उनकी बहन यमुना देवी से संबंधित है। बताया जाता है कि भगवान सूर्यदेव की पत्नी छाया की कोख से यमराज और यमुना का जन्म हुआ था। यमुना अपने भाई यमराज से बहुत स्नेह करती थीं और अक्सर उनसे अनुरोध करती रहती थीं कि वे अपने इष्ट-मित्रों सहित उसके घर भोजन के लिए पधारें लेकिन यमराज हर बार उसके निमंत्रण को किसी न किसी बहाने से टाल जाते। कार्तिक शुक्ल द्वितीया को यमुना ने यमराज को एक बार फिर भोजन के लिए आमंत्रित किया।

उस समय यमराज ने विचार किया कि मैं तो अपने कर्त्तव्य से बंधा सदैव प्राणियों के प्राण ही हरता हूं। इसलिए इस चराचर जगत में कोई भी मुझे अपने घर नहीं बुलाना चाहता। लेकिन बहन यमुना तो मुझे बार-बार अपने घर आमंत्रित कर रही है। इसलिए अब तो उसका निमंत्रण स्वीकार करना ही चाहिए।यमराज को अपने घर आया देख यमुना की खुशी का ठिकाना न रहा। उसने भाई का खूब आदर-सत्कार करते हुए उनके समक्ष नाना प्रकार के व्यंजन परोसे। बहन के आतिथ्य से यमराज बहुत प्रसन्न हुए और उन्होंने उसे कोई वर मांगने को कहा। इस पर यमुना ने उनसे अनुरोध किया कि आप प्रतिवर्ष इसी दिन मेरे घर आकर भोजन करें और मेरी तरह जो भी बहन इस दिन अपने भाई का आदर-सत्कार करे, उसे तुम्हारा भय न रहे। यमराज ने बहन यमुना को उसका इच्छित वरदान दे दिया। ऐसी मान्यता है कि उसी दिन से ‘भैया दूज’ का पर्व मनाया जाने लगा। भैया दूज के संबंध में और भी कई कथाएं प्रचलित हैं। ऐसी ही एक कथा के अनुसार, एक ब्राह्मण की दो संतानें थी।

एक पुत्र एवं एक पुत्री। पुत्री बहुत समझदार एवं गुणवती थी। वह अपने भाई से जी-जान से प्यार करती थी। एक दिन उसका भाई उससे मिलने उसकी ससुराल पहुंचा। उस समय वह सूत कातने में व्यस्त थी। अतः उसे भाई के आने का पता ही न चल सका। भाई भी बिना कुछ बोले चुपचाप एक ओर बैठा रहा। जब थोड़ी देर बाद बहन की नजर उस पर पड़ी तो भाई को अपने घर आया देख उसे बेहद खुशी हुई। उसने भाई का भरपूर आदर-सत्कार किया। अगले दिन भाई को वापस लौटना था। अतः रास्ते के लिए वह आटे के पकवान बनाने के उद्देश्य से चक्की में आटा पीसने लगी। अनजाने में चक्की में बैठा सांप भी आटे के साथ पिस गया। उसी आटे के पकवान एक पोटली में बांधकर उसने भाई को रास्ते में खाने के लिए देकर विदा किया। भाई के घर से जाने के बाद जब उसे यह मालूम हुआ कि आटे में सांप पिस गया है तो अपने पुत्र को पालने में ही सोता छोड़कर वह अपने भाई के प्राणों की रक्षा के लिए दौड़ी। कुछ दूर जाने पर उसे एक पेड़ की छांव में अपना भाई सोता दिखाई दिया। तब तक उसने पोटली में से कुछ भी नहीं खाया था। उसने भगवान का शुक्रिया अदा किया और पोटली उठाकर दूर फेंक दी तथा भाई के साथ मायके की ओर चल दी।

रास्ते में उसने देखा कि भारी-भारी शिलाएं आकाश में उड़ रही हैं। उसने एक राहगीर से इस रहस्य के बारे में जानना चाहा तो उसने बताया कि जो बहन अपने भाई पर कभी नाराज न होती हो और उसे दिलो-जान से चाहती हो, उस भाई की शादी के समय ये शिलाएं उसकी छाती पर रखी जाएंगी। थोड़ी दूर चलने पर उसे नाग-नागिन दिखाई दिए। नाग ने बताया कि ये शिलाएं जिस व्यक्ति की छाती पर रखी जाएंगी, हम उसे डंस लेंगे। जब बहन ने इस विपत्ति से बचने का उपाय पूछा तो नाग-नागिन ने बताया कि अगर भाई के विवाह के समय उसके सभी कार्य बहन स्वयं करे, तभी भाई की जान बच सकती है।जब उसके भाई के विवाह के लग्न का शुभ मुहूर्त आया तो वह भाई को पीछे धकेलती हुई स्वयं ही लग्न चढ़वाने के लिए आगे हो गई और घोड़ी पर भी स्वयं चढ़ गई। परिवारजन और संबंधी उसके इस विचित्र व्यवहार से हैरान तथा क्रोधित थे। उसके घोड़ी पर चढ़ते ही शिलाएं उड़ती-उड़ती आई लेकिन घोड़ी पर किसी पुरूष की जगह एक महिला को बैठी देख वापस मुड़ गई। जब सुहागरात का समय आया तो वह भाई को पीछे कर खुद भाभी के साथ सोने उसके कमरे में चली गई।

परिवार के सभी सदस्य तथा सभी रिश्तेदार उसके इस अजीबोगरीब व्यवहार से बेहद आश्चर्यचकित और खफा थे। उन्हें उस पर गुस्सा तो बहुत आ रहा था लेकिन उसके जिद के समक्ष सभी विवश थे। सुहागरात पर नियत समय पर नाग-नागिन उसके भाई को डंसने कमरे में पहुंच गए लेकिन उसने नाग-नागिन को मारने की सारी तैयारी पहले ही कर रखी थी। आखिरकार उसने नाग-नागिन का काम तमाम कर दिया। उसके बाद वह निश्चिंत होकर सो गई। सुबह होने पर सभी मेहमानों को विदा करने के बाद परिवार वालों ने सोचा कि अब इस बला को भी कुछ बचा-खुचा देकर यहां से चलता कर दिया जाए लेकिन नींद से जागने पर जब उसने पूरी घटना के बारे में सब को विस्तार से बताया कि किस प्रकार वह अपने बच्चे को पालने में ही सोता छोड़कर दौड़ी-दौड़ी भाई के प्राण बचाने के लिए उसके पीछे चली आई और सभी को नाग-नागिन के मृत शरीर दिखाए तो सभी की आंखों में आंसू आ गए।

भाई के प्रति उसका असीम प्यार तथा समर्पण भाव देखकर उसके प्रति सभी का हृदय श्रद्धा से भर गया।भाई-भाभी तथा माता-पिता ने उसे ढेर सारे उपहारों से लादकर बड़े मान-सम्मान के साथ खुशी-खुशी ससुराल से विदा किया। भाई-बहन के बीच इसी प्रकार के पावन संबंध, प्रेमभाव तथा उनके दिलों में आपसी संबंधों को मजबूत बनाने के लिए ही ‘भैया दूज’ पर्व मनाया जाता है।

(लेखक स्तंभकार हैं।)

Top News

कोलगेट पाऊडर के नाम पर नशा तस्करी: 276 किलो चूरा-डोडा पोस्त के साथ तस्कर गिरफ्तार, राजस्थान से पंजाब जाना था चूरा पोस्त

हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है।

Published

पुलिस की गिरफ्त में नशा तस्कर।

नशा तस्करी पर रोक के मामले में हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है। आरोपी सुंदर सिंह 11 कट्‌टों में यह नशीला पदार्थ भरकर राजस्थान के चितौड़गढ़ से पंजाब के गोविंदगढ़ लेकर जा रहा था।

गिरफ्तार आरोपी सुंदर सिंह

ट्रक से बरामद डोडा और चूरा पोस्त के कट्‌टों के ऊपर कोलगेट पाऊडर लिखा था। बरामद नशीले पदार्थ में से 200 किलो चूरा पोस्त और करीब 76 किलो डोडा पोस्त है। पुलिस एसआई सतबीर सिंह के अनुसार आरोपी सुंदर सिंह को सिरसा हाईवे पर आर्यनगर के पास चेकिंग के लिए रुकवाया था। तलाशी के दौरान ट्रक से 11 कट्‌टे नशीला पदार्थ बरामद हुआ। आरोपी को कोर्ट में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया है।

Continue Reading

Top News

पलवल में पुलिस के सायरन के बाद मशीन छोड़ कर फरार हुए बदमाश

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

Published

ATM में कैश को चैक करते कंपनी कर्मचारी।

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। इसमें 30 लाख रुपए थे। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

पलवल के कैंप थाना प्रभारी कैलाशचंद ने बताया कि रात को लुटेरों ने किठवाड़ी रेलवे ओवर ब्रिज के निकट हिटाची कंपनी के एटीएम को काट लिया था। इसी बीच थाने की पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मी पवन कुमार, हवलदार संदीप और एसपीओ विनय रात्रि गश्त पर निकले। गाड़ी का सायरन बजाते हुए वे रेलवे रोड की तरफ से किठवाड़ी चौक के अलीगढ़ रोड पर रेलवे ओवर ब्रिज के पास पहुंचे तो वहां एटीएम के गेट पर मशीन पड़ी थी।

हिताची कंपनी के एटीएम को बदमाशों ने काट लिया था। पुलिस के आ जाने से वे उसे ले जा नहीं पाए।सूचना के बाद कंपनी के कर्मचारी ने मौके पर पहुंचकर एटीएम मशीन को खोलकर चैक किया तो उसमें 30 लाख रुपए का कैश सही सलामत मिला। ईएचसी पवन कुमार ने बताया कि लुटेरे पुलिस की पीसीआर का सायरन सुनकर मौके पर ही मशीन को छोडक़र फरार हो गए।

सीसीटीवी के कैमरे तोड़े

एटीएम बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरों में जब जांच की गई तो उसमें रात के करीब डेढ़ बजे एक नकाबपोश अंदर आता है और फिर लोहे की रॉड से अंदर लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ देता है।

Continue Reading

Top News

पहाड़ों पर बर्फ और मैदानों में बारिश से बढ़ेगा ठंड का प्रकोप, स्मॉग से भी मिल सकती है राहत

विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

Published

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

पंजाब, हरियाणा और हिमाचल में अगले दो दिन में मौसम में बड़े बदलाव का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान मौसम में बदलाव लेकर आएगा। विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

मैदानी इलाकों में छाये स्मॉग के कारण लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। पिछले दो दिन स्मॉग के कारण ज्याद परेशानी रही, लोग सूरज के भी दर्शन नहीं कर पाए। हालांकि शुक्रवार को कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी का असर भी दिखा और सूरज भी निकला। आसमान में कोहरा सा छाया हुआ है। बढ़ रहे वायु प्रदूषण ने लोगों का जीना बेहाल कर दिया है।

हिमाचल के मौसम का असर : बढ़ेगा सर्दी का सितम

हिमाचल प्रदेश लाहौल एवं स्पिति में पिछले तीन दिन से बर्फबारी का दौर शुरू होने से मौसम ने करवट ली है। पहाड़ों पर बर्फबारी से लोगों की चिंता और बढ़ रही है। एक-दो दिन में मौसम विभाग प्रदेशभर में हल्की बारिश की संभावना जताई है। ऐसे में बारिश और बर्फ गिरने से सप्ताह भर में ठंड और बढ़ जाएगी। मौसम विभाग ने 6 दिसंबर तक बारिश की भविष्यवाणी की है। लोग अभी भी गर्म कपड़ों में ही घरों से निकल रहे हैं। ऐसे में बारिश होती है तो सर्दी का सितम बढ़ेगा और स्मॉग से भी राहत मिलेगी।

पंजाब में प्रदूषण का स्तर 221 AQI

पंजाब में गुरुवार का दिन ठंडा रहा और आसमान में बादल छाए रहने से कई जिलों में सूरज देवता के दर्शन नहीं हुए। मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि अगले सप्ताह तक ऐसी ही स्थिति रह सकती है। पंजाब के शहरों की बात करें तो शनिवार को हवा में प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है। बड़े शहरों में हवा में प्रदूषण का स्तर 221 AQI से ज्यादा है। हवा में प्रदूषण का यह स्तर स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है।

पंजाब के बड़े शहर अमृतसर में 25 नवंबर को 25 डिग्री सेल्सियस अधिकतम और 10 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान था। वहीं 30 नवंबर को अधिकतम 24 और 8 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं जालंधर में 30 नवंबर को अधिकतम 23.8 और 7.7 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

हरियाणा में हल्की बारिश का पूर्वानुमान

हिमाचल में बदल रहे मौसम का असर हरियाणा में भी अपना प्रभाव दिखाएगा। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में हरियाणा के कुछ जिलों में हल्की बरसात का पूर्वानुमान लगाया है। हिसार, भिवानी, झज्जर, पलवल, फरीदाबाद गुरुग्राम आदि में शाम तक 5 एमएम बारिश की उम्मीद है। जीटी बेल्ट में मौसम को लेकर कोई अलर्ट फिलहाल नहीं है। ऐसे में यहां स्मॉग से भी अभी मुक्ति संभव नहीं है। पानीपत में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के अनुसार पिछले दो दिन से तापमान में 1 डिग्री तक गिरावट हो रही है। अधिकतम तापमान में ज्यादा गिरावट न आने से फिलहाल सर्दी से कुछ राहत है।

सूखी ठंड और स्मॉग से बढ़ रहे खांसी-जुकाम के मरीज

मैदानी इलाकों में सूखी ठंड और आसमान में छाया मौसम लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं। इससे खांसी और जुकाम के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। बड़े बुजुर्ग और बच्चे इससे खासतौर पर परेशान हो रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक बारिश के बाद ही इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। बारिश होने से जहां स्मॉग खत्म हो जाएगा वहीं मौसमी बीमारियों पर भी अंकुश लगेगा।

6 दिसंबर तक मौसम का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान एकाएक मौसम में बदलाव लेकर आएगा। इससे मैदानी इलाकों में 6 दिसंबर तक बारिश होगी। हिमाचल में पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और अन्य जगह बारिश होने का पूर्वानुमान है। वहीं हरियाणा और पंजाब में भी दो दिन हल्की बारिश हो सकती है।

Continue Reading

Featured Post

Top News1 महीना पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News1 महीना पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 महीना पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News2 महीना पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News3 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market