Connect with us

Top News

चुनाव: हरियाणा वासी वोट भी नहीं डालते और नोटा भी नहीं चुनते

—प्रदेश में नोटा के प्रति नहीं है मतदाताओं में जागरुकता

Published

on

चंडीगढ़,(नसीब सैनी)।

हरियाणा वासियों में नॅन ऑफ दी अबव (नोटा) के प्रति जागरुकता नहीं है। प्रदेश में बड़ी संख्या में ऐसे मतदाता हैं जो चुनाव के दौरान न तो वोट के अधिकार का इस्तेमाल करते हैं और न ही मतदान केंद्र में जाकर नोटा का प्रयोग करते हैं। प्रदेश में मतदाताओं का एक बड़ा तबका ऐसा है जो मतदान करने के बजाय अपने निजी कार्यों को निपटाने को तरजीह देते हैं। ऐसे मतदाताओं की संख्या अधिक होने के कारण चुनाव आयोग बेहद चिंतित है। इसके चलते प्रदेश के सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्र में अभियान चलाकर अधिक से अधिक मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचाए।

उल्लेखनीय है कि चुनाव आयोग ने पहले वर्ष 2014 में सर्वप्रथम इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन में नोटा की सुविधा प्रदान की थी। इसके माध्यम से मतदाताओं को एक ऐसा विकल्प प्रदान करना है जिसके तहत वह भले ही किसी उम्मीदवार को प्रतिनिधि के रूप में न चुनें, लेकिन मतदान प्रक्रिया का हिस्सा बनने के लिए मतदान केंद्र तक जरूर जाएं।

चुनाव आयोग के अनुसार हरियाणा में पिछले पांच वर्षों के दौरान हुए चुनाव में बहुत कम लोग ऐसे हैं जिन्होंने नोटा का इस्तेमाल किया है। इसी साल मई माह के दौरान हुए लोकसभा चुनाव में 53.7 लाख के करीब मतदाताओं ने वोट नहीं डाले। इसके उलट हरियाणा में कुल 41 हजार 781 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया। मतलब साफ है कि 52 लाख से अधिक मतदाता पोलिंग बूथ तक नहीं पहुंचे।

लोकसभा चुनाव के दौरान अंबाला लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 7943 मतदाताओं ने और सबसे कम 2041 ने भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा क्षेत्र में नोटा का इस्तेमाल किया। हरियाणा में नोटा के इस्तेमाल का प्रतिशत जहां 0.33 प्रतिशत रहा, वहीं देशभर में यह 1.04 प्रतिशत था। इससे पहले वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान मतदान प्रक्रिया में हिस्सा लेने वाले हरियाणा के करीब एक करोड़ 15 लाख मतदाताओं में से 34 हजार 225 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया। आंकड़ों से साफ पता चलता है कि वर्ष 2014 में केवल 0.30 प्रतिशत मतदाता ही प्रत्याशियों को खारिज करने के लिए मतदान केंद्र तक पहुंचे, जबकि लोकसभा चुनाव में 45.9 लाख से अधिक मतदाता ऐसे थे जिन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया।

हरियाणा में वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव के दौरान सबसे अधिक 53 हजार 613 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया। हरियाणा में पिछले साल हुए जींद उपचुनाव के दौरान केवल 345 मतदाताओं ने नोटा का इस्तेमाल किया, जबकि मेयर चुनाव के दौरान महज 7546 मतदाताओं ने नोटा का प्रयोग किया। अतीत में हुए चुनाव के दौरान वोट और नोटा के इस्तेमाल के बीच के अंतर को देखते हुए आयोग का प्रयास है कि इस बार अधिक से अधिक संख्या में मतदाता मतदान केंद्र तक आएं।

नोटा उन मतदाताओं के लिए है जो किसी उम्मीदवार को वोट नहीं देना चाहते हैं। 2009 में सुप्रीम कोर्ट ने भारत के चुनाव आयोग से हर चुनावी बैलट पर इस विकल्प को उपलब्ध कराने को कहा था। लेकिन सरकार ने इसका विरोध किया था। 2013 में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया कि हर मतदाता को ‘नोटा’ करने का अधिकार है। तब से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में नोटा का भी विकल्प दिया गया है। 2014 के चुनावों से नोटा की शुरुआत हुई।
चुनाव आयोग ने स्पष्ट किया था कि नोटा के वोटों की गिनती की जाती है,लेकिन उनको अवैध वोट माना जाता है। इसलिए नोटा के वोट का चुनाव के परिणामों पर कोई असर नहीं पड़ता है।

फिर नोटा की क्या जरूरत?
नोटा चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार के समक्ष मतदाताओं को अपना असंतोष प्रकट करने का मौका देता है। इससे ज्यादा से ज्यादा लोग वोट देने आएंगे। भले ही वह किसी भी उम्मीदवार को पसंद न करें। भारत के तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश पी.सदाशिवम के नेतृत्व वाली एक बेंच ने कहा था कि नेगेटिव वोटिंग से चुनाव के सिस्टम में बदलाव हो सकता है। इससे राजनीतिक पार्टियां साफ छवि वाले उम्मीदवारों को चुनाव में खड़ा करने के लिए मजबूर होंगी।

चुनाव                          नोटा मतदाता           प्रतिशत            कुल वोटिंग
लोकसभा 2019             41,781                   0.33                    12681536
जींद चुनाव                    00,345                   0.26                    00130828
मेयर चुनाव 2018          07,546                    –                              –
विधानसभा 2014           53,613                   0.04                     12412195
लोकसभा 2014              34,225                   0.30                     11501305

नसीब सैनी

Top News

कोलगेट पाऊडर के नाम पर नशा तस्करी: 276 किलो चूरा-डोडा पोस्त के साथ तस्कर गिरफ्तार, राजस्थान से पंजाब जाना था चूरा पोस्त

हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है।

Published

पुलिस की गिरफ्त में नशा तस्कर।

नशा तस्करी पर रोक के मामले में हिसार पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने राजस्थान के नशा तस्कर को गिरफ्तार किया है। जयपुर के कचनारिया निवासी तस्कर सुंदर सिंह के ट्रक से पुलिस को 276 किलो चूरा और डोडा पोस्त बरामद किया है। आरोपी सुंदर सिंह 11 कट्‌टों में यह नशीला पदार्थ भरकर राजस्थान के चितौड़गढ़ से पंजाब के गोविंदगढ़ लेकर जा रहा था।

गिरफ्तार आरोपी सुंदर सिंह

ट्रक से बरामद डोडा और चूरा पोस्त के कट्‌टों के ऊपर कोलगेट पाऊडर लिखा था। बरामद नशीले पदार्थ में से 200 किलो चूरा पोस्त और करीब 76 किलो डोडा पोस्त है। पुलिस एसआई सतबीर सिंह के अनुसार आरोपी सुंदर सिंह को सिरसा हाईवे पर आर्यनगर के पास चेकिंग के लिए रुकवाया था। तलाशी के दौरान ट्रक से 11 कट्‌टे नशीला पदार्थ बरामद हुआ। आरोपी को कोर्ट में पेश कर एक दिन के रिमांड पर लिया है।

Continue Reading

Top News

पलवल में पुलिस के सायरन के बाद मशीन छोड़ कर फरार हुए बदमाश

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

Published

ATM में कैश को चैक करते कंपनी कर्मचारी।

हरियाणा के पलवल में गश्त पर निकली पुलिस के सायरन ने बैंक के 30 लाख रुपए बचा लिए। लुटेरों ने बैंक की एटीएम मशीन काट ली थी। इसमें 30 लाख रुपए थे। वे इसे लेकर चले ही थे कि पुलिस का सायरन सुनकर मशीन को वहीं छोड़कर भागना पड़ा।

पलवल के कैंप थाना प्रभारी कैलाशचंद ने बताया कि रात को लुटेरों ने किठवाड़ी रेलवे ओवर ब्रिज के निकट हिटाची कंपनी के एटीएम को काट लिया था। इसी बीच थाने की पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मी पवन कुमार, हवलदार संदीप और एसपीओ विनय रात्रि गश्त पर निकले। गाड़ी का सायरन बजाते हुए वे रेलवे रोड की तरफ से किठवाड़ी चौक के अलीगढ़ रोड पर रेलवे ओवर ब्रिज के पास पहुंचे तो वहां एटीएम के गेट पर मशीन पड़ी थी।

हिताची कंपनी के एटीएम को बदमाशों ने काट लिया था। पुलिस के आ जाने से वे उसे ले जा नहीं पाए।सूचना के बाद कंपनी के कर्मचारी ने मौके पर पहुंचकर एटीएम मशीन को खोलकर चैक किया तो उसमें 30 लाख रुपए का कैश सही सलामत मिला। ईएचसी पवन कुमार ने बताया कि लुटेरे पुलिस की पीसीआर का सायरन सुनकर मौके पर ही मशीन को छोडक़र फरार हो गए।

सीसीटीवी के कैमरे तोड़े

एटीएम बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरों में जब जांच की गई तो उसमें रात के करीब डेढ़ बजे एक नकाबपोश अंदर आता है और फिर लोहे की रॉड से अंदर लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ देता है।

Continue Reading

Top News

पहाड़ों पर बर्फ और मैदानों में बारिश से बढ़ेगा ठंड का प्रकोप, स्मॉग से भी मिल सकती है राहत

विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

Published

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

पंजाब, हरियाणा और हिमाचल में अगले दो दिन में मौसम में बड़े बदलाव का पूर्वानुमान है। मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान मौसम में बदलाव लेकर आएगा। विभाग ने 6 दिसंबर तक हिमाचल के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं इसका असर पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा। यहां ठंड का प्रकोप बढ़ेगा।

मैदानी इलाकों में छाये स्मॉग के कारण लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। पिछले दो दिन स्मॉग के कारण ज्याद परेशानी रही, लोग सूरज के भी दर्शन नहीं कर पाए। हालांकि शुक्रवार को कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी का असर भी दिखा और सूरज भी निकला। आसमान में कोहरा सा छाया हुआ है। बढ़ रहे वायु प्रदूषण ने लोगों का जीना बेहाल कर दिया है।

हिमाचल के मौसम का असर : बढ़ेगा सर्दी का सितम

हिमाचल प्रदेश लाहौल एवं स्पिति में पिछले तीन दिन से बर्फबारी का दौर शुरू होने से मौसम ने करवट ली है। पहाड़ों पर बर्फबारी से लोगों की चिंता और बढ़ रही है। एक-दो दिन में मौसम विभाग प्रदेशभर में हल्की बारिश की संभावना जताई है। ऐसे में बारिश और बर्फ गिरने से सप्ताह भर में ठंड और बढ़ जाएगी। मौसम विभाग ने 6 दिसंबर तक बारिश की भविष्यवाणी की है। लोग अभी भी गर्म कपड़ों में ही घरों से निकल रहे हैं। ऐसे में बारिश होती है तो सर्दी का सितम बढ़ेगा और स्मॉग से भी राहत मिलेगी।

पंजाब में प्रदूषण का स्तर 221 AQI

पंजाब में गुरुवार का दिन ठंडा रहा और आसमान में बादल छाए रहने से कई जिलों में सूरज देवता के दर्शन नहीं हुए। मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि अगले सप्ताह तक ऐसी ही स्थिति रह सकती है। पंजाब के शहरों की बात करें तो शनिवार को हवा में प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है। बड़े शहरों में हवा में प्रदूषण का स्तर 221 AQI से ज्यादा है। हवा में प्रदूषण का यह स्तर स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है।

पंजाब के बड़े शहर अमृतसर में 25 नवंबर को 25 डिग्री सेल्सियस अधिकतम और 10 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान था। वहीं 30 नवंबर को अधिकतम 24 और 8 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। वहीं जालंधर में 30 नवंबर को अधिकतम 23.8 और 7.7 डिग्री सेलिस्यस न्यूनतम तापमान रहा। 3 दिसंबर को अधिकतम 24 और न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सिय तापमान रहा। 4 दिसंबर को अधिकतम 25 और न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में हुआ ताजा हिमपात।

हरियाणा में हल्की बारिश का पूर्वानुमान

हिमाचल में बदल रहे मौसम का असर हरियाणा में भी अपना प्रभाव दिखाएगा। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में हरियाणा के कुछ जिलों में हल्की बरसात का पूर्वानुमान लगाया है। हिसार, भिवानी, झज्जर, पलवल, फरीदाबाद गुरुग्राम आदि में शाम तक 5 एमएम बारिश की उम्मीद है। जीटी बेल्ट में मौसम को लेकर कोई अलर्ट फिलहाल नहीं है। ऐसे में यहां स्मॉग से भी अभी मुक्ति संभव नहीं है। पानीपत में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग के अनुसार पिछले दो दिन से तापमान में 1 डिग्री तक गिरावट हो रही है। अधिकतम तापमान में ज्यादा गिरावट न आने से फिलहाल सर्दी से कुछ राहत है।

सूखी ठंड और स्मॉग से बढ़ रहे खांसी-जुकाम के मरीज

मैदानी इलाकों में सूखी ठंड और आसमान में छाया मौसम लोगों की परेशानी बढ़ा रहे हैं। इससे खांसी और जुकाम के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। बड़े बुजुर्ग और बच्चे इससे खासतौर पर परेशान हो रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक बारिश के बाद ही इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है। बारिश होने से जहां स्मॉग खत्म हो जाएगा वहीं मौसमी बीमारियों पर भी अंकुश लगेगा।

6 दिसंबर तक मौसम का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार आंध्र प्रदेश में उठा चक्रवाती तूफान एकाएक मौसम में बदलाव लेकर आएगा। इससे मैदानी इलाकों में 6 दिसंबर तक बारिश होगी। हिमाचल में पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और अन्य जगह बारिश होने का पूर्वानुमान है। वहीं हरियाणा और पंजाब में भी दो दिन हल्की बारिश हो सकती है।

Continue Reading

Featured Post

Top News2 महीना पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News2 महीना पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 महीना पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News2 महीना पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News3 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market