Connect with us

Top News

हनीट्रैप मामले की जांच के लिए बनी एसआईटी के चीफ तीसरी बार बदले

—राज्य शासन ने देर रात पुलिस विभाग में किया बड़ा फेरबदल

Published

on

भोपाल,(नसीब सैनी)।

राज्य शासन ने मंगलवार रात पुलिस विभाग में बड़ी सर्जरी की है। इसके साथ ही बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले की जांच के लिए 9 दिन पहले बनी एसआईटी में भी तीसरी बार बदलाव कर दिया गया है। हनी ट्रैप केस की जांच के लिए राज्य सरकार ने अब डीजी स्तर के सीनियर आईपीएस अधिकारी राजेंद्र कुमार को एसआईटी का जिम्मा सौंपा है। राजेंद्र कुमार 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। उनसे पहले संजीव शमी इसके प्रमुख थे, जिन्हें बदलकर पुलिस भर्ती एवं एंटी नक्सल ऑपरेशन में भेजा गया है। 

मंगलवार की देर शाम मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्य सचिव एसआर मोहंती और डीजीपी वीके सिंह से इस बारे में चर्चा करने के बाद एसआईटी को बदला है। राजेंद्र कुमार के साथ एसआईटी टीम में एडीजी सायबर क्राइम मिलिंद कानस्कर और एसएसपी इंदौर रुचि वर्धन मिश्र रहेंगी। टीम की कमान संभालने वाले राजेंद्र कुमार को यह अधिकार दिए गए हैं, वे अगर आवश्यक होगा तो अन्य अधिकारियों की मदद ले सकेंगे। डीजीपी को एसआईटी को आवश्यक सहयोग देने के आदेश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इसके साथ ही कुछ और सीनियर आईपीएस अधिकारियों के कामकाज में परिवर्तन किया है। उन्होंने पुलिस अफसरों के विवादों के बीच बड़ी सर्जरी में तीन वर्ष से ज्यादा एक स्थान पर पदस्थ वरिष्ठ अफसरों को भी बदल दिया है। स्पेशल डीजी सायबर सेल व एसटीएफ प्रमुख पुरुषोत्तम शर्मा को भी डीजीपी से विवाद के चलते हटाया गया है। उन्हें संचालक लोक अभियोजन का जिम्मा दिया गया है। वे राजेंद्र कुमार की जगह पर जाएंगे। बड़ी सर्जरी में राज्य सरकार ने लंबे समय तक परिवहन आयुक्त रहे शैलेंद्र श्रीवास्तव को पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन की जवाबदारी दी है। 

इसके अलावा केएन तिवारी स्पेशल डीजी,ईओडब्ल्यू को स्पेशल डीजी, चयन एवं भर्ती, पुरुषोत्तम शर्मा स्पेशल डीजी, सायबर एवं एसटीएफ को संचालक, लोक अभियोजन, एडीजी, योजना पवन जैन को एडीजी लोकायुक्त संगठन, एडीजी, इंटेलीजेंस-कैलाश मकवाना को एडीजी प्रशासन, एडीजी आरएपीटीसी-मिलिंद कानस्कर को एडीजी सायबर, एडीजी एंटी नक्सल ऑपरेशन-जीपी सिंह को एडीजी एससीआरबी, एडीजी लोकायुक्त संगठन-सुशोभन बनर्जी को प्रभारी डीजी ईओडब्ल्यू, एडीजी प्रशासन-एसडब्ल्यू नकवी को एडीजी इंटेलीजेंस, एडीजी, लोकायुक्त संगठन-वी मधुकुमार को आयुक्त परिवहन, एडीजी सायबर-राजेश गुप्ता को एडीजी एटीएस, एडीजी एससीआरबी-आदर्श कटियार को एडीजी व आईजी भोपाल, एडीजी एटीएस-संजीव शमी को एडीजी चयन एवं भर्ती, आईजी भोपाल-योगेश देशमुख को आईजी प्रशासन की कमान सौंपी गई है। 

जिन अधिकारियों को प्रमोशन मिला है उनमें आईजी लॉ एंड ऑर्डर-अनंत कुमार सिंह को एडीजी योजना, आईजी होशंगाबाद-आशुतोष राय को एडीजी व आईजी होशंगाबाद, आईजी ग्वालियर-राजाबाबू सिंह को एडीजी व आईजी ग्वालियर, आईजी चंबल-डीपी गुप्ता को एडीजी व आईजी चंबल और शैलेष सिंह ओएसडी मुंबई पदस्थ किया गया है।

नसीब सैनी

Top News

चार बच्चों के पिता ने जहर निगल जान दी: नाराज पत्नी को लेने गया था ससुराल, ससुरालवालों के बेइज्जत कर घर से निकालने पर था आहत…

बीरू अपनी नाराज पत्नी नूरी को लेने फतेहाबाद के तलवाड़ा गांव में अपनी ससुराल गया था। वहां पर बीरू के ससुरालवालों ने बेइज्जत कर धक्के मारकर घर से निकाल दिया। बेइज्जती से आहत होकर घर आकर बीरू ने जहर निगल लिया।

Published

मृतक बीरु की फाइल फोटो

बरवाला के खेड़ी बर्की निवासी बीरू (40) ने जहर निगल कर जान दे दी। मौत से एक दिन पहले बीरू अपनी नाराज पत्नी नूरी को लेने फतेहाबाद के तलवाड़ा गांव में अपनी ससुराल गया था। वहां पर बीरू के ससुरालवालों ने बेइज्जत कर धक्के मारकर घर से निकाल दिया। बेइज्जती से आहत होकर घर आकर बीरू ने जहर निगल लिया। बीरू को इलाज के लिए अग्रोहा मेडिकल में भर्ती करवाया गया।

सोमवार देर शाम बीरू की मौत हो गई। बीरू के चार बच्चे हैं, इनमें बडे़ की उम्र 10 साल है। मृतक बीरू खेतों में रखवाली का काम करता था। पुलिस ने इस मामले में बीरू के भाई रामअवतार की शिकायत पर पत्नी नूरी, ससुर महाबीर और सास कृष्णा के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

रामअवतार ने बताया कि उसके भाई बीरू और लीलाराम की शादी तलवाड़ा वासी नूरी व बंधना के साथ हुई थी। शादी के बाद अक्सर उसके भाई बीरू की पत्नी नूरी नाराज होकर अपने मायके चली जाती थी। इस बारे में कई बार पंचायत भी हुई थी। अब दोबारा से छह माह पहले ही नूरी फिर से अपने मायके चली गई थी। उसका भाई बीरू अपनी पत्नी नूरी को लेने ससुराल गया था। वहां से आने के बाद उसने घर आकर जहर खाकर जान दे दी। पुलिस मंगलवार को मृतक बीरू का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंपेगी।

Continue Reading

Top News

एक बाइक पर 6 युवक सवार होकर मार रहे थे तफरी, पुलिस ने बनाया मुर्गा

फ़तेहाबाद जिले के रतिया बस स्टैंड पर एक बाइक पर तफरी मार रहे 6 युवकों को दुर्गा शक्ति टीम ने पकड़ लिया और उनको मुर्गा बनाकर माफी मंगवाई. हालांकि युवकों द्वारा माफी मांगे जाने पर पुलिस ने उनको छोड़ दिया.

Published

पुलिस ने युवकों को पकड़ कर बनाया मुर्गा

हरियाणा के फ़तेहाबाद जिले के रतिया बस स्टैंड पर एक बाइक पर तफरी मार रहे 6 युवकों को दुर्गा शक्ति टीम ने पकड़ लिया और उनको मुर्गा बनाकर माफी मंगवाई. हालांकि युवकों द्वारा माफी मांगे जाने पर पुलिस ने उनको छोड़ दिया. युवकों के मुर्गा बनने की वीडियो सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो रही है. वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि एक ही बाइक पर 6 युवक खतरनाक तरीके से सफर कर रहे हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, रतिया बस स्टैंड पर सुबह व दोपहर को अनेक छात्राएं स्कूल जाने व घर आने के लिए एकत्रित होती हैं. ऐसे में बस स्टैंड पर अनेक युवक भी आते हैं और छेड़छाड़ की घटनाएं होती हैं. इस मामले में बस स्टैंड इंचार्ज हरबंस सिंह ने रतिया थाना प्रभारी को शिकायत देकर ऐसे युवकों पर कार्रवाई की मांग की थी.

बस स्टैंड इंचार्ज की शिकायत के बाद बस स्टैंड पर रतिया थाना प्रभारी ने सुबह 8 से 10 व दोपहर 12 से 3 बजे तक यहां पर दुर्गा शक्ति की गाड़ी को नियुक्त किया है. इस दौरान जब एक ही बाइक पर जान को खतरे में डालकर बस स्टैंड पहुंचे 6 युवक आए तो दुर्गा शक्ति के कर्मचारियों ने उनको पकड़ लिया. पुलिस ने सरेराह इन युवकों को नैतिक सजा दी. पुलिस ने बस स्टैंड परिसर में सभी 6 युवकों को मुर्गा बनाया.

वहीं पुलिस ने इन युवकों को भविष्य में ऐसी गलती दोबारा न दोहराने की हिदायत भी दी. दुर्गा शक्ति वाहन इंचार्ज रामेश्वर ने बताया कि यह युवक जान जोखिम में डालकर बाइक पर सवार थे. यह युवक खुद की मुर्गा बनकर अपनी गलती मानते रहे. नैतिकता के आधार पर उनको सजा दी गई है. उनकी ड्यूटी यहां पर महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा के लिए है और इसके लिए ही वह यहां पर ड्यूटी दे रहे हैं. इन युवकों ने अपनी गलती मानते हुए स्वयं की मुर्गा बनकर गलती मानी. इसके बाद उनको चेतावनी देकर छोड़ दिया गया.

Continue Reading

Top News

हरियाणा में दंपती सहित 6 की सड़क हादसे में हुई मौत: कैथल में बारात से लौट रही कार दूसरी कार से टकराई, मरने वालों में 4 बाराती

हादसा इतना जबरदस्त था कि दोनों कारें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। दो की मौके पर मौत हुई, जबकि अन्य को अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। चार घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Published

कैथल के पाई गांव में दो कारों में भीषण टक्कर के बाद कार के परखच्चे उड़ गए।

हरियाणा के कैथल जिले के गांव पाई में मंगलवार सुबह दो कारों की आमने-सामने टक्कर हो गई। हादसे में 4 बारातियों समेत 6 की मौत हो गई। मृतकों में एक दंपती शामिल है। हादसा इतना जबरदस्त था कि दोनों कारें पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। दो की मौके पर मौत हुई, जबकि अन्य को अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। चार घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पुंडरी से जींद गई थी बारात
कैथल के पुंडरी निवासी राहुल की बारात जींद की सैनी धर्मशाला में गई थी। एक कार में सवार बाराती घर लौट रहे थे। उनकी कार जब गांव पाई के पास पहुंची तो दूसरी कार से सामने टक्कर हो गई। दूसरी कार में सवार लोग कुरुक्षेत्र के दाबखेड़ी गांव से जींद के मलार गांव में जा रहे थे। ये अपनी बीमार मां से मिलकर गांव लौट रहे थे।

मृतक विनोद और उसकी पत्नी बाला का फाइल फोटो।

मरने वालों में पति-पत्नी भी
पाई गांव के पास दोनों कारों की आमने-सामने हुई टक्कर में जींद की तरफ जा रही कार में विनोद, बाला, सोनिया और विराज सवार थे। विनोद और उसकी पत्नी बाला की मौत हो गई। जबकि विराज और सोनिया घायल हैं। दूसरी तरफ बारात से लौट रही कार के ड्राइवर बरेली निवासी सत्यम, सैनी मोहल्ला पुंडरी निवासी रमेश, नरवाना निवासी अनिल, हिसार निवासी शिवम की मौत हो गई। दो बाराती सतीश और बलराज घायल हैं।

जींद के अपराही मोहल्ला में भी मातम
जींद के अपराही मोहल्ला में स्वर्गीय रामधारी नंबरदार के छोटे भाई नरेश नंबरदार की बेटी निशु की शादी थी। बारात पुंडरी से जींद की सफीदों गेट सैनी धर्मशाला में आई थी। बारात की एक कार पुंडरी लौटते समय कैथल के गांव पाई के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे की सूचना जींद में करीब साढ़े 9 बजे पहुंची। वहां भी मातम पसर गया।

सुबह 6 बजे निकली डोली
निशु, जिसकी शादी थी, के पिता नरेश नंबरदार की जींद सब्जी मंडी में आढ़ती है। मंडी में इनकी 34 नंबर दुकान है। कुछ बाराती अपने-अपने वाहनों में अल सुबह 2 से 3 बजे ही निकल गए थे। डोली सुबह करीब 6 बजे गई थी। कुछ बाराती इसके साथ ही निकले थे। डोली के साथ निकलने वाले रिश्तेदार आमतौर पर काफी करीबी ही होते हैं।

हादसे के बाद शवों को दोनों कारों से निकाला गया।

तीन दिन पहले ही पड़ोस में हुई थी मौत
नरेश नंबरदार के पड़ोस में तीन दिन पहले गली में ही बलजीत नामक व्यक्ति की अचानक ही मौत हो गई थी। उनकी मौत से भी गली में मातम था। इसको देखते हुए निशु की शादी बड़े सादे ढंग की गई।

पुलिस से पहले ग्रामीणों ने शुरू कर दिया था बचाव कार्य
पाई गांव के पास हादसे की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। इससे पहले ग्रामीणों की भीड़ लग गई थी, जो बचाव कार्य में लगे थे। हादसे के बाद एक कार पेड़ से टकरा गई थी। घटनास्थल पर क्षतिग्रस्त कारों का सामान बिखरा पड़ा था। शव गाड़ियों में ही फंसे थे। पुलिस ने घायलों और दो शवों को अस्पताल पहुंचाया। मरने वालों की संख्या 6 हो गई।

कैथल में हुए हादसे को लेकर कार्रवाई करती पुलिस।

नव वधु के स्वागत की थी तैयारी, हादसे की सूचना पहुंची
बारात की गाड़ी और दूसरी कार की टक्कर से 4 बारातियों की मौत की सूचना पुंडरी पहुंची तो शादी वाले घर में मातम पसर गया। जिस घर में नव वधु के स्वागत की तैयारी चल रही थी, वहां शवों की सूचना पहुंची। नाच गाना रुक गया। दूसरी तरफ विनोद और बाला की मौत से उनकी बीमार मां की हालत और बिगड़ गई।

Continue Reading

Featured Post

Top News1 महीना पूर्व

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर...

Top News1 महीना पूर्व

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

आरसी फर्जीवाड़ा:पुलिस कैंसिल करेगी गाड़ियाें का पंजीकरण, मालिकों को दोबारा रजिस्ट्रेशन करा कोर्ट से लेनी होगी गाड़ी

Top News2 महीना पूर्व

हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपी गिरफ्तार

कुरुक्षेत्र। जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने सामूहिक हमला करके गंभीर चोट पहुँचाने व मोबाइल छीनने के चार आरोपियो को गिरफ्तार किया...

Top News2 महीना पूर्व

नशीली दवाईयां बेचने के आरोप में दो गिरफ्तार

Top News3 महीना पूर्व

सिपाही पेपर लीक मामले में 2 लाख रुपए का ईनामी अपराधी मुजफ्फर अहमद सीआईए-1 पुलिस द्वारा जम्मु से गिरफ्तार

सिपाही पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस को बडी कामयाबी

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

%d bloggers like this:
Web Design BangladeshBangladesh online Market