Connect with us

Top News

देशहित में लिए जाने वाले फैंसलों से सुरजेवाला के पेट में होता दर्द : अमित शाह

—अमित शाह का विपक्ष पर वार

—कांग्रेस को राफेल का सेना में शामिल होना भी बुरा लग रहा है : अमित शाह

Published

on

कैथल,(नसीब सैनी)

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं देश के गृहमंत्री अमित शाह ने आज कैथल जिले से चुनावी बिगुल फुंकते हुए कांग्रेस पर जमकर हमला बोलते हुए कैथल जिले के चारों भाजपा प्रत्याशियों को विजयी बनाने की जनता से अपील की। अमित शाह ने कैथल से भाजपा उम्मीदवार लीला राम गुर्जर को आर्शीवाद देते हुए जीत का मंत्र दिया और कहा कि कैथल से आप लोग लीला राम को भारी मतों से विजयी बनाकर भेजें। अब कैथल जिले की विकास की यात्रा को गति देने का काम आप लोगों ने करना है। शाह ने कैथल से भाजपा प्रत्याशी भाई लीला राम, पूंडरी से एडवोकेट वेदपादल, कलायत से कमलेश ढांडा व गुहला से रवि तारांवाली के लिए वोट की अपील की।

शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि 70 साल से देश के नागरिकों के मन में एक कसक थी कि जम्मू-कश्मीर देश से अलग क्यों है। इस रोड़े को हमन हटाया, लेकिन यह हिम्मत कभी कांग्रेस क्यों नहीं दिखा पाई। जब एक देश में 2 झंडे नहीं हो सकते, 2 संविधान नहीं हो सकते, 2 प्रधानमंत्री नहीं हो सकते। तो ये जम्मू-कश्मीर को देश से अलग करने वाली धारा 370 अब तक क्यों थी। कांग्रेस की 3 पीढिय़ां बदल गईं, लेकिन कांग्रेस की सरकारें जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 नहीं हटा पाई। ऐसा नहीं कि यह अनुच्छेद हट नहीं सकता था, लेकिन कांग्रेस के पास हटाने की हिम्मत नहीं थी, मगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दूसरे कार्यकाल के पहले ही संसद सत्र में 370 को खत्म करने का काम किया। कांग्रेस ने अनुच्छेद हटाने का विरोध किया।

शाह ने कहा कि वे राहुल गांधी से पूछना चाहते हैं कि क्या वे हरियाणा में आकर अनुच्छेद-370 हटाने के मुद्दे पर केंद्र सरकार के साथ हैं या विरोध में हैं? उन्होंने उपस्थित जनसमूह से भी पूछा, क्या एक देश में दो झंडे और दो प्रधानमंत्री हो सकते हैं? मगर भाजपा के हर निर्णय का विरोध करना कांग्रेस की आदत बन चुकी है। अगर भाजपा दिन को दिन कहेगी, तो कांग्रेस वाले कहेंगी कि रात है। अगर हम रात कहेंगे, तो वे कहेंगे कि दिन है। लेकिन जब 1971 में देश की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी थी, तब विपक्ष में भाजपा थी और उस समय भ्भारत-पाकिस्तान की लड़ाई हुई थी और उसमें भारत की जीत हुई थी और बांग्लादेश अलग देश बना था। लेकिन उस समय भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयी ने इस फैसला का विरोध नहीं, बल्कि स्वागत किया था, क्योंकि यह देशहित में था। लेकिन कांग्रेस देशहित के हर फैसले का विरोध करती है। हमने 3 तलाक का कानून बनाया तो कांग्रेस ने विरोध किया, जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई तो कांग्रेस ने विरोध किया, पाकिस्तान की सीमा में जाकर देश के जवानों ने सर्जिकल स्ट्राइक की तो कांग्रेस नेताओं ने विरोध किया, आंतकवाद की कमर तोडऩे के लिए नोटबंदी की तो कांग्रेस ने विरोध किया। अब देश से घुसपैठियों को बाहर निकालने व राफेल का सेना में शामिल किए जाने का भी कांग्रेस को बुरा लग रहा है। इसलिए आपके बीच ये लोग आएं तो इनसे आप सवाल जरूर पूछना कि आप देशहित में लिए गए फैसलों का क्यों विरोध करते हो। उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस को को समझ में नहीं आ रहा है कि चुनाव पूर्व से शुरू करें या पश्चिम से। विपक्ष पूरी तरह गफलत में है।

इस मौके पर हरियाणा प्रभारी अनिल जैन, सांसद नायब सैनी, पूर्व सांसद कैलाशो सैनी, जिलाध्यक्ष अशोक गुर्जर, कैलाश भगत, सुरेश गर्ग, राव सुरेंद्र, अरुण सर्राफ, पूर्व विधायक कुलवंत बाजीगरख्, पूर्व विधायक फुल सिंहख् खेड़ी, शैली मुंजाल, मुकेश जैन, रामपाल माजरा, संजय भारद्वाज, रामपाल राणा, राजेंद्र शर्मा स्लेटी,ख् अजीत चहल, सज्जन ढुल, पूर्व विधायक तेजबीर सिंह सहित अन्य उपस्थित थे।

आज पूरे विश्व में भारत का डंका बज रहा है। पी.एम. नरेंद्र मोदी बाहर जाते हैं तो विश्व भर में सम्मान बढ़ता है। मनमोहन सिंह जाते थे तो मौनी बाबा की तरह मैडम 2 पन्ने लिखकर देती थीं, वे उन्हें पढ़कर आ जाते थे। कई बार मलेशिया का पन्ना थाईलैंड में तो थाईलैंड का पन्ना मलेशिया में पढ़ आते थे। जिस कारण उन्हें कोई गंभीरता से नहीं लेता था। लेकिन मोदी जी जाते हैं तो हजारों लोग मोदी-मोदी करके उनका अभिनंदन करते हैं। यह सम्मान भाजपा या नरेंद्र मोदी का नहीं है बल्कि हरियाणावासियों यह सम्मान देश के 125 करोड़ देशवासियों का है।

हरियाणा में आया बड़ा परिवर्तन
अमित शाह ने कहा कि 5 साल पहले वे भाजपा अध्यक्ष के नाते वोट मांगने आए थे। जनता ने भाजपा सरकार बनाने का मौका भी दिया और मुख्यमंत्री मनोहर लाल बने। 5 साल के अंदर हरियाणा में बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। अब जाति के आधार पर काम नहीं होते। मनोहर सरकार की कोई जाती नहीं है, हर आदमी की सरकार है। पहले चौटाला की सरकार आती थी तो गुंडागर्दी बढ़ती थी और हुड्डा आता था तो भ्रष्टाचार संग लाता था। नौकरियों का बाजार अब बीते जमाने की बात हो गई है। युवाओं को योग्यता एवं मैरिट के आधार पर नौकरियां दी जा रही हैं।

सुरजेवाला के पेट में होता है दर्द
अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री कुछ करते हैं तो कैथल के सुरजेवाला यानि कांग्रेस के प्रवक्ता के पेट में दर्द होता है। अमेरिका में मोदी का भव्य सम्मान हुआ तो सुरजेवाला के पेट में दर्द हुआ। वे सवाल उठाते हैं कि पी.एम. विश्व भ्रमण पर ही रहते हैं। मगर यह सच्चाई है कि मोदी से ज्यादा कांग्रेस प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह विदेश में गए हैं। वे केवल सोनिया मैडम द्वारा टाइप किए दो पन्ने पढ़कर आ जाते थे। इसलिए लोगों को पता नहीं चलता था कि पी.एम. विदेश में हैं या देश में। आज विदेश में एयरपोर्ट पर ही मोदी का स्वागत करने के लिए लाखों लोग उमड़ पड़ते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति भी हैरान रह गए कि इतने लोग मोदी को सुनने कहां से आ गए। यह सम्मान भाजपा या मोदी का नहीं है, बल्कि देश की 125 करोड़ जनता का है।

रैली की झलकियां
-रैली में हजारों की भीड़ पहुंच
-रैली में कैथल हलके से सबसे ज्यादा भीड़ दिखी
-लोग ट्रैक्टर-ट्रालियों पर बैठकर रैली में पहुंचे
-सबसे बड़ा काफिला गांव क्योड़क से आया
-क्योड़क से कैथल तक वाहनों की लंबी लाइन लगी हुई थी
-रैली में उमड़ी भीड़ को देखकर लीला राम गदगद नजर आए
-लोगों ने कहा कि इस बार कैथल का विधायक लीला राम ही होगा
-बीच-बीच में अबकी बार, बाहरी बाहर, भाई लीला राम ङ्क्षजदाबाद के नारे गुंजते रहे
-गृह मंत्री अमित शाह के टारगेट पर रही कांग्रेस व सुरजेवाला
-अमित शाह ने हरियाणवीं अंदाज में कैथल वालों से किए सवाल-जवाब
-कैथल वालों…इस बार लीला राम को जितवाकर विधानसभा भेज दो

नसीब सैनी

Top News

अयोध्या प्रकरण: उप्र में शांति बरकरार रहने पर डीजीपी ने साथियों का जताया आभार

—इसी को लेकर पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने मंगलवार को आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके सभी साथियों का आभार जताया

Published

लखनऊ,(नसीब सैनी)।

प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह ने अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए हर पल चौकन्ना रहने पर पुलिसकर्मियों की तारीफ की है। 

सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले ही प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया था और अयोध्या सहित सभी संवेदनशील जनपदों और अन्य स्थानों पर पुलिस अधिकारी लगातार मातहतों के साथ मुस्तैदी से जुटे हुए थे। सोशल मीडिया तथा शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखी गई। इस वजह ये माहौल पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा। यहां तक की सुप्रीम कोर्ट के फैसले के दिन 9 नवम्बर को प्रदेश में एक भी संज्ञेय अपराध नहीं हुआ। पूरे प्रदेश में हत्या, लूट, अपहरण, दुष्कर्म की एक भी एफआईआर दर्ज नहीं हुई। ये भी सामने आया कि फैसले के बाद से ही अपराधों में तेजी से कमी आई है। इसी को लेकर पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने मंगलवार को आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके सभी साथियों का आभार जताया।

उन्होंने कहा कि विगत में संपन्न हुए विभिन्न त्योहारों और अयोध्या प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट द्वारा पारित निर्णय के आलोक में वर्तमान सुरक्षा परिदृश्य कानून-व्यवस्था की दृष्टि से अत्यंत संवेदनशील व चुनौतीपूर्ण था। किंतु, इन परिस्थितियों को चुनौती के रूप में सहर्ष स्वीकार करते हुए आप सभी द्वारा पूरे प्रदेश में शांति, कानून व्यवस्था की ड्यूटी में शत-प्रतिशत योगदान दिया गया। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि आपकी कर्तव्यबद्धता की मैं आभारपूर्ण सहृदय सराहना करता हूं। उन्होंने अंत में जय हिन्द लिखते हुए अपनी बात पूरी की।  

पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने अयोध्या प्रकरण के दौरान शांति-व्यवस्था में लगे पुलिसकर्मियों को कर्तव्य निष्पादन के लिए सार्वजनिक रूप से विशेष सराहनीय प्रविष्टि देने का भी निर्णय किया है। उनके मुताबिक इस प्रकार सार्वजनिक रूप से पुलिसकर्मियों का मनोबल बढ़ाने का कदम पहली बार उठाया गया है। सिपाही से लेकर निरीक्षक तक 35 हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को इसका लाभ मिलेगा।

डीजीपी ने सभी एडीजी जोन, एडीजी पीएसी, एडीजी रेलवे, आइजी व डीआइजी रेंज, एसएसपी, एसपी का निर्देश दिए हैं कि दशहरा, चेहल्लुम, दीपावली, बारावफात, कार्तिक पूर्णिमा व अन्य प्रमुख मौकों तथा अयोध्या प्रकरण में सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने के अवसर पर शांति-व्यवस्था बनाने में लगे सभी अराजपत्रित पुलिसकर्मियों की चरित्र पंजिका में विशेष सराहनीय प्रविष्टि अंकित की जाए।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

पुंछ में सुरक्षाबलों ने ध्वस्त किया आतंकी ठिकाना, सात आईईडी बरामद

—आतंकियों की धरपकड़ के लिए सुरक्षाबलों का जंगलों में तलाशी अभियान

Published

पुंछ,(नसीब सैनी)।

पुंछ जिले के देहरागली में सांगला के जंगलों में मंगलवार को सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान चलाकर एक आतंकी ठिकाने को ध्वस्त कर दिया। सुरक्षाबलों ने मौके से सात आईईडी, एक गैस सिलेंडर और वायरलेस सेट बरामद किया है। आतंकियों की धरपकड़ के लिए फिलहाल सुरक्षाबलों ने जंगलों में तलाशी अभियान चला रखा है।

रविवार देर रात कुछ स्थानीय लोगों ने सुरनकोट के ऊंचाई वाले इलाकों में स्थित सांगला के जंगलों में कुछ संदिग्धों को घूमते हुए देखा था। संदिग्ध लोगों को देखे जाने की सूचना मिलने के तुरन्त बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू किया। सोमवार देर रात तक सुरक्षाबलों ने देहरागली के जंगलों में तलाशी अभियान जारी रखा। आज सुबह देहरागली के जंगलों में सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान के दौरान एक आतंकी ठिकाना ढूंढ निकाला। आतंकी ठिकाने को ध्वस्त करने के बाद तलाशी लेने पर यहां से सात आईईडी, एक गैस सिलेंडर और वायरलेस सेट बरामद किया गया। इस दौरान किसी भी आतंकी के पकड़े जाने की कोई सूचना नहीं है। आतंकियों की धरपकड़ के लिए फिलहाल सुरक्षाबलों ने जंगलों में तलाशी अभियान चला रखा है।

आशंका है कि आतंकी क्षेत्र में बड़ी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में थे। बरामद की गई आईईडी से यह भी कयास लगाए जा रहे हैं कि यह विस्फोटक सामग्री सेना की कानवाई को निशाना बनाने के लिए इस्तेमाल की जानी थी।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

दोस्ती करने से मना करने पर हमला, लड़की के पिता और भाई घायल

—पुलिस के अनुसार घायलों कमल (24) और उसके पिता बाबूलाल का इलाज राजा हरिश्चंद अस्पताल में चल रहा है

Published

नई दिल्ली,(नसीब सैनी)।

बाहरी उत्तरी जिले के नरेला औद्योगिक थाना क्षेत्र में दोस्ती करने से मना करने पर एक युवक ने अपने दोस्तों के साथ सोमवार रात लड़की के घर पर हमला कर दिया। विरोध करने पर आरोपितों ने लड़की के भाई और पिता पर उस्तरे से हमलाकर घायल कर दिया। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। 

पुलिस के अनुसार घायलों कमल (24) और उसके पिता बाबूलाल का इलाज राजा हरिश्चंद अस्पताल में चल रहा है। कमल की बहन फूलवती ने बताया है कि उसके भाई और पिता पर भलस्वा डेयरी निवासी सन्नी और उसके दोस्तों ने हमला किया है। सन्नी घर के पड़ोस में रहता है। वह  घर आता-जाता है। वह दोस्ती करना चाहता था। मना करने पर उसने घर पर आकर हंगामा किया। विरोध करने पर पिता और भाई पर हमलाकर फरार हो गया।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News23 घंटे पूर्व

दोस्ती करने से मना करने पर हमला, लड़की के पिता और भाई घायल

---पुलिस के अनुसार घायलों कमल (24) और उसके पिता बाबूलाल का इलाज राजा हरिश्चंद अस्पताल में चल रहा है

Top News23 घंटे पूर्व

जिले में दर्ज हुआ तीन तलाक का पहला मामला

---थाना प्रभारी चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है

Top News2 दिन पूर्व

तलाकशुदा महिला से दुष्कर्म, मामला दर्ज

---पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की

Top News2 दिन पूर्व

फेसबुक पर मांदुर्गा को लेकर अभद्र टिप्पणी, केस दर्ज

---आरोपित पेशे से दुकानदार है

Top News4 दिन पूर्व

अंग्रेजी मीडियम कल्चर में फिट नहीं हो पा रही थी छात्रा, की खुदकुशी

---पुलिस ने बताया कि रात को उसने दोस्तों के साथ पिकनिक किया था जिसके बाद ही फांसी लगाई है

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market