Connect with us

बिहार

जनसंख्या ही नहीं बचेगी तो कौन बोलेगा ‘बोलबम’ : गिरिराज सिंह

जबकि वे आठ प्रतिशत से बढ़कर 25 करोड़ से अधिक हो गये हैं। अगर आप बचोगे नहीं तो कांवड़ यात्रा क्या, बोल बम भी नहीं बोल सकोगे। कांवड़ यात्रा तभी तक सुरक्षित है, जब तक कि हिन्दू की आबादी है

Published

on

बेगूसराय, रविवार की रात केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, मंत्री ही नहीं हिन्दुत्व के रक्षक की भूमिका में दिखे। बेगूसराय जिला के झमटिया गंगा धाम में अटल जी को समर्पित सावन महोत्सव का शुभारंभ करने बाद समारोह को संबोधित करते हुए गिरिराज सिंह ने हिंदुओं की घटती जनसंख्या पर जमकर चर्चा की। जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग सरकार से करने के लिए आम लोगों को प्रेरित करते हुए, उन्होंने कहा कि आज हिंदुओं की जनसंख्या लगातार कम हो रही है। हिन्दू की जनसंख्या बिहार में चार प्रतिशत, केरल में पांच प्रतिशत, बंगाल में 10 प्रतिशत, असम में 12 प्रतिशत, झारखंड में तीन प्रतिशत, उत्तर प्रदेश में 17 प्रतिशत कम हो गई है।

हिन्दू जाति में बंट रहे हैं, जिसके कारण हिन्दुत्व पर काला बादल मंडरा रहा है। उन्होंने कहा कि विश्व के अधिकतम देशों में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू है। लेकिन भारत में यह कानून लागू नहीं किया जा रहा है। हिन्दू ‘हम दो हमारे दो’ पर रहते हैं। जबकि ‘वो’ कर लेते हैं हम पांच हमारे पचीस। अगर यही हाल रहा तो धन और धर्म दोनों भ्रष्ट हो जाएगा। इसलिए कानून बने कि हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी को दो-दो बच्चे हों। पाकिस्तान में रहने वाले हिंदू का प्रतिशत 22 से एक आ गया है। लेकिन इस मुद्दे पर बोलने की ताकत किसी नेता में नहीं है और न ही पत्रकार में लिखने की। आज पूरे देश में कांवड़ यात्रा या अन्य किसी भी धार्मिक मौके पर लोगों की भीड़ उमड़ रही है। यह भीड़ पूर्वजों द्वारा बचाकर रखी गई स्मिता के कारण है। लेकिन अब की पीढ़ी ध्यान नहीं दंगे तो आने वाला समय अंधकारमय होगा। उन्होंने कहा कि हिन्दू की जनसंख्या लगातार घट रही है,

जबकि वे आठ प्रतिशत से बढ़कर 25 करोड़ से अधिक हो गये हैं। अगर आप बचोगे नहीं तो कांवड़ यात्रा क्या, बोल बम भी नहीं बोल सकोगे। कांवड़ यात्रा तभी तक सुरक्षित है, जब तक कि हिन्दू की आबादी है। कहा कि, बेगूसराय के ही रमजानपुर में नियम बना दिया गया है कि शुक्रवार के दिन कोई हिन्दू मुख्य सड़क से लाश नहीं ले जा सकता है। लेकिन यह किसी को नहीं दिखता है। सनातन धर्म की रक्षा के लिए सभी हिन्दूवादी संगठनों से आगे आने की अपील करते हुए गिरिराज सिंह ने गंगा को स्वच्छ रखने के लिए आम लोगों से आगे आने का आह्वान किया। झमटिया गंगा घाट पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ को देख उन्होंने कहा कि देश में क्षेत्रीय मेला बड़ा व्यवसाय देता है। यहां सुल्तानगंज जैसी भीड़ होती है। इसके विकास के लिए मुख्यमंत्री से मिलेंगे| इसको और बेहतर किया जाएगा।

 द्वारा-नसीब सैनी/अभिषेक महेरा

 

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Top News

पटना कॉलेज की छात्रा के साथ गैंग रेप

—पुलिस मामले की जांच में जुटी, आरोपित पकड़ से बाहर

Published

पटना,(नसीब सैनी)।

देशभर में रेप की वारदातों को लेकर जनता में गुस्सा है। उसके बाद भी गैंग रेप के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बीच, पटना के पाटलिपुत्र इलाके में एक लड़की के साथ गैंग रेप का मामला प्रकाश में आया है। इस बाबत लड़की ने खुद ही महिला थाने में केस दर्ज कराई है। शिकायत के बाद पुलिस हरकत में आ गई है और आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी कर रही है।

गैंग रेप के आरोपितों में एक अधिकारी का बेटा और उसके कई दोस्त शामिल बताये जाते हैं। दुस्साहस देखिये कि आरोपितों ने लड़की को यह भी धमकी दी है कि इस बात को ज्यादा तूल दोगी तो तुम्हारे भाई की हत्या और तुम्हारा वीडियो वायरल कर देंगे। 20 वर्षीय पीड़ित लड़की के साथ अधिकारी के बेटे ने चार दोस्तों के साथ वारदात को अंजाम दिया है। समाचार लिखे जाने तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो पायी है।

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

दिल्ली अग्निकांड : नवीन का शव बड़ी जाना गांव पहुँचते ही गम में डूबे ग्रामीण

–शव आते ही ग्रामीण के साथ-साथ आसपास के गांव वालों का भी हुजूम उमड़ पड़ा

Published

बेगूसराय,(नसीब सैनी)।

दिल्ली में अनाज मंडी इलाके में हुए अग्निकांड के मृतकों में शामिल बेगूसराय के नवीन कुमार का शव मंगलवार की देर रात उसके पैतृक गांव पहुंचा। रात करीब दस बजे शव गांव में आते ही परिजनों के करुण क्रंदन से पूरा इलाका रो उठा। साथ में दिल्ली से ही आ रहे मृतक के भाई मनोज कुमार पल-पल का लोकेशन दे रहे थे। इसके कारण शाम से ही बड़ी जाना में मृतक के घर सैकड़ों लोगों की भीड़ लगी हुई थी।

शव आते ही ग्रामीण के साथ-साथ आसपास के गांव वालों का भी हुजूम उमड़ पड़ा। दरवाजे पर जैसे ही एंबुलेंस पहुंची, परिजनों के चीत्कार से एक बार फिर पूरा बड़ी जाना गांव गूंजने लगा। मृतक नवीन की मां अनीता देवी का हाल रोते-रोते बुरा है। पुत्र के शव से लिपट कर रो-रोकर यह कह रही थी कि अब मेरा कौन बेटा सहारा बनेगा। वहीं, लोगों में व्यवस्था के प्रति आक्रोश भी था। बेगूसराय के श्रम अधीक्षक अनिल कुमार, श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी अशोक कुमार, प्रकाश कुमार, आशीष कुमार और नवीन कुमार एंबुलेंस के साथ पहुंचे और शव परिजनों को सुपुर्द किया । अंतिम संस्कार बुधवार की दोपहर किया जाएगा। 

नसीब सैनी

Continue Reading

Top News

दिल्ली अग्निकांड : पूरी नहीं हो सकी मां के लिए साड़ी लेकर आने की मंशा, आ रही है लाश

—पिछले सप्ताह ही मां से बात करते हुए उसने कहा भी था कि मां मैं अब अच्छे तरीके से कमा रहा हूं

Published

बेगूसराय,(नसीब सैनी)।

दिल्ली की  अनाज मंडी में रविवार को हुए अग्निकांड में मृतक नवीन कुमार  के घर तीसरे दिन भी मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। मृतक के घर समेत आसपास के घरों में भी चूल्हे नहीं जल रहे हैं। बेगूसराय के छौड़ाही ओपी स्थित बड़ी जाना में मृतक नवीन कुमार के घर मच रहे करुण क्रंदन से आसपास का माहौल पूरी तरह से गमगीन है। उसकी  मां शकुंतला देवी और बहनें रह-रह कर लगातार बेहोश हो रहे हैं जिनका इलाज ग्रामीण चिकित्सक कर  रहे  हैं । पिता राजेंद्र राम की तो आंखें  पथरा चुकी  हैं। नवीन के परिजन सोमवार की रात एंबुलेंस से दिल्ली से लाश लेकर चले हैं, मंगलवार की रात तक लाश गांव पहुंचने की संभावना है जिसके बाद दाह संस्कार किया जाएगा। परिवार की अत्यंत गरीबी देख नवीन दिल्ली कमाने गया और प्लास्टिक बैग बनाने वाली फैक्ट्री  मैं नौकरी करने लगा जहां  रहने और खाने का खर्चा काटकर पांच-सात हजार रुपया महीना बचाकर लगातार घर भेजता  रहता था।

पिछले सप्ताह ही मां से बात करते हुए उसने कहा भी था कि मां मैं अब अच्छे तरीके से कमा रहा हूं। तुम्हारे लिए साड़ी खरीदा हूं, जिसे लेकर घर आऊंगा और अब बाबूजी को भी गांव-गांव में घूम कर जूता -चप्पल मरम्मत करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आप लोगों ने बहुत कष्ट झेले हैं अब आप लोगों को आराम दूंगा। लेकिन ईश्वर को यह मंजूर नहीं था और फैक्ट्री में लगी आग में नवीन के साथ-साथ मां के लिए खरीदी गई साड़ी भी जल गई। बात करते समय मां को कहां पता था की अब मेरा कमाऊ बेटा साड़ी लेकर नहीं कफन में लिपट कर आएगा।

मां तो खुश थी कि होली में बेटा घर आएगा। अपने लाल से हुई बातचीत को कहते-कहते वह लगातार बेहोश हो रही है। आसपास के लोग भी नवीन की  मिलनसार प्रवृत्ति की खूब चर्चा कर रहे हैं। रविवार की सुबह गांव वालों को जानकारी मिली कि आग लग गई है जिसके बाद सभी लोग नवीन के सलामती की दुआएं कर रहे थे। लेकिन रात होते-होते नवीन के भी मौत की पुष्टि हो गई तो उसके पड़ोसी, दोस्त और ग्रामीण गमगीन हैं।

नसीब सैनी

Continue Reading

Featured Post

Top News2 वर्ष पूर्व

रॉबर्ट वाड्रा की गिरफ्तारी पर 5 फरवरी तक जारी रहेगी रोक

---हाईकोर्ट जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की कोर्ट ने अधिवक्ता भंवरसिंह मेड़तिया के निधन के बाद कोर्ट में 3.45 बजे रेफरेंस...

Top News2 वर्ष पूर्व

बिजनौर कोर्ट शूटकांड : हाईकोर्ट ने डीजीपी और अपर मुख्य सचिव (गृह) को किया तलब

---दरअसल, बिजनौर में 28 मई को नजीबाबाद में हुई बसपा नेता हाजी अहसान व उनके भांजे शादाब की हत्या के...

Top News2 वर्ष पूर्व

निर्भया केस: दोषी अक्षय की पुनर्विचार याचिका खारिज, फांसी की सजा बरकरार

---सुप्रीम कोर्ट ने कहा-पुनर्विचार याचिका में कोई नए तथ्य नहीं, इसलिए ख़ारिज होने योग्य

Top News2 वर्ष पूर्व

कतर टी-10 लीग पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों की आईसीसी ने शुरु की जांच

--उल्लेखनीय है कि कतर टी-10 लीग का आयोजन सात से 16 दिसम्बर तक कतर क्रिकेट संघ ने किया था

Top News2 वर्ष पूर्व

बिजनौर कोर्ट रूम में हुई हत्या मामले में चौकी प्रभारी समेत 18 पुलिसकर्मी सस्पेंड

---एसपी ने बताया कि कोर्ट में दिनदहाड़े कुख्यात बदमाश शाहनवाज की हत्या के बाद जजी परिसर में सुरक्षा की पोल...

Recent Post

Trending

Copyright © 2018 Chautha Khambha News.

Web Design BangladeshBangladesh online Market